ताज़ा खबर
 

यूपी: मंदिर में पूजा करने आई दलित महिला को बंधक बनाकर गैंगरेप, तीन गिरफ्तार

पीड़िता के साथ उसका भतीजा भी मंदिर आया हुआ था। उसने आरोपियों की हरकत का विरोध किया था, जिस उसकी पिटाई कर दी गई थी। वारदात के थोड़ी देर बाद किसी तरह पीड़िता के भतीजे ने पुलिस को इस मामले की जानकारी दी।

प्रतीकात्मक तस्वीर।

उत्तर प्रदेश में एक दलित महिला के साथ गैंगरेप का मामला प्रकाश में आया है। घटना के दौरान वह मंदिर में पूजा करने गई थी। तीन दरिंदों ने उसे इस दौरान बंधक बना लिया था और फिर उसके साथ गैंगरेप किया था। पुलिस ने इस मामले में शिकायत मिलने पर तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने इसी के साथ पीड़िता की मेडिकल जांच भी कराई गई है और मामले की जांच-पड़ताल कर रही है।

यह घटना प्रदेश की राजधानी लखनऊ से सटे सीतापुर से जुड़ी हुई है। 26 वर्षीय दलित पीड़िता के अनुसार, सोमवार (14 मई) को वह नैमीशरण्या धाम मंदिर गई थी, जिसे नीमसार नाम से भी जाना जाता है। अमावस्या के उपलक्ष्य पर वह अपने 19 वर्षीय भतीजे के साथ पूजा करने मंदिर पहुंची थी। पूजा के दौरान तीन अज्ञात लोगों ने आकर उसे बंधक बना लिया था।

भतीजे ने घटना के वक्त उन लोगों का विरोध किया, जिस पर आरोपियों ने उसकी पिटाई कर दी। बाद में उन तीनों ने महिला के साथ गैंगरेप को अंजाम दिया। घटना के थोड़ी देर बाद किसी तरह पीड़िता के भतीजे ने पुलिस को इस मामले की जानकारी दी। सूचना पर पुलिस ने घटनास्थल से तीनों आरोपियों को धर दबोचा।

मिशरिख पुलिस के अनुसार, आरोपियों की पहचान 32 वर्षीय रामू, 42 वर्षीय रामेश्वर कश्यप और 23 वर्षीय पतरू कश्यप के तौर पर हुई है। पुलिस ने इन तीनों के खिलाफ गैंगरेप और अन्य संबंधित मामलों के तहत मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने इसके साथ आरोपियों पर अनुसूचित जाति एवं जनजाति (अत्याचार निरोधक) अधिनियम, 1989 के तहत भी मामला दर्ज किया है।

आपको बता दें कि छह मई को जनपद सोनभद्र में कुछ ऐसा ही मिलता-जुलता मामला सामने आया था। अनपरा थाना क्षेत्र में युवती अपने मंगेतर के साथ हनुमान मंदिर पहुंची हुई थी, जहां उसके साथ 10 अज्ञात लोगों ने गैंगरेप किया। यही नहीं, आरोपियों ने इस दौरान उसके मंगेतर को चाकू की नोंक पर बंधक बना लिया था और उसकी जमकर पिटाई की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App