ताज़ा खबर
 

यूपी, बिहार की ट्रेनों में मचाती थीं लूटपाट, 11 महिला चोरों के गैंग को एक साथ पुलिस ने पकड़ा था…

बताया गया था कि गैंग की महिलाएं ट्रेन की अलग-अलग बोगियों में सवार हो जाती थी। इसके बाद तीन चार महिलाएं एक ही स्थान पर बैठती हैं और किसी महिला यात्री का सामान या जेवर चुराते ही वहां से खिसक कर चली जाती हैं...

सांकेतिक तस्वीर। फोटो सोर्स- एक्सप्रेस अर्काइव

ट्रेनों में लूटपाट या चोरी की घटनाएं कोई बड़ी बात नहीं है। अक्सर ट्रेन से सफर करने वाले लोगों के साथ ऐसी घटना होती है। कई बार अपराधी पकड़े भी जाते हैं तो कई बार वो सालों तक पुलिस की नजर से बचे रहते हैं। आज हम ट्रेनों में लूटपाट मचाने वाली महिला गैंग के बारे में आपको बताने जा रहे हैं। बताया जाता है कि महिला चोरों के इस गैंग ने बिहार, यूपी की कई ट्रेनों में सफर करने वाले यात्रियों को अपना निशाना बनाया था। पुलिस ने इस गैंग की 11 महिला चोरों को एक साथ दबोचा था। कैसे पुलिस ने इन सभी को पकड़ा? यह हम आपको आगे बताएंगे। पहले हम आपको बताते हैं कि यह गैंग किस तरह से काम करता था।

इनके पकड़े जाने के बाद इनके लूटपाट मचाने के तरीके के बारे में पता चला था। बताया गया था कि गैंग की महिलाएं ट्रेन की अलग-अलग बोगियों में सवार हो जाती थी। इसके बाद तीन चार महिलाएं एक ही स्थान पर बैठती हैं और किसी महिला यात्री का सामान या जेवर चुराते ही वहां से खिसक कर चली जाती हैं, फिर अगले स्टेशन पर उतर जाती हैं। ट्रेनों में चढ़ते समय आधा दर्जन की संख्या में पहुंचकर धक्का-मुक्की करती हैं और किसी महिला की चेन खींच लेती हैं। ट्रेनों के अलावा बड़े-बड़े मेले के आयोजनों एवं मंदिरों में भी ये घटनाओं को अंजाम देती थीं।

रेल यात्रियों से चोरी की बड़ी घटनाओं को अंजाम देने वाली 11 शातिर महिला चोरों को मऊ जीआरपी ने इसी साल जनवरी के महीने में मुखबिर की सूचना पर मऊ स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या एक से गिरफ्तार कर लिया था। उस वक्त जीआरपी थानाध्यक्ष गणनाथ प्रसाद ने मीडिया को बताया था कि आए दिन रेल यात्रियों से चोरी की बढ़ती घटनाओं को देखते हुए मऊ जंक्शन पर जीआरपी द्वारा सघन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था।

इस दौरान मुखबिर से सूचना मिली थी कि शातिर चोर गैंग की कुछ महिलाएं किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में मऊ जंक्शन पर आई हुई हैं। मुखबिर से सूचना मिलते ही जीआरपी ने जंक्शन के सभी प्लेटफार्मों पर जांच-पड़ताल शुरू कर दी गई थी।

जांच के दौरान एक नंबर प्लेटफार्म के अंतिम छोर पर कुछ संदिग्ध महिलाएं बैठी नजर आई थीं। जीआरपी टीम ने शक होने पर उस वक्त इन महिलाओं को हिरासत में लेते हुए उनसे कड़ी पूछताछ की थी। पकड़ी गई शातिर चोर गैंग की महिलाओं ने बताया था कि वह ट्रेनों में चोरी की घटनाओं को अंजाम देती है औऱ इस वक्त स्टेशन पर उनके साथ 6 महिलाए और एक पुरुष चोरी करने की नीयत से है। पुलिस ने महिलाओं की सूचना पर उसके दूसरे साथियों को भी गिरफ्तार कर लिया था।

Next Stories
1 विदेशी हथियार का जखीरा पकड़ा था, CBI में भी रहे; जानिए कौन हैं पश्चिम बंगाल के नए DGP नीरज पांडे
2 लिफाफा लेकर CMO पहुंचे थे घूस देने, IAS छवि भारद्वाज ने दर्ज करा दी थी FIR; दबंग अफसर की कहानी
3 अमिताभ, धर्मेंद्र और शत्रुघ्न सिन्हा के साथ किया था काम, अभिनेत्री की गला रेत कर हुई हत्या ने सबको कर दिया था सन्न
ये पढ़ा क्या?
X