ताज़ा खबर
 

दिन में 9-10 घंटे पढ़ाई करती थीं आशिमा गोयल, UPSC में 65 रैंक हासिल कर बनीं IAS अधिकारी, शेयर किया अनुभव

आशिमा के पिता एक साइबर कैफे चलाते थे। उनकी शुरुआती पढ़ाई भी यहीं से हुई है। इसके बाद उन्होंने IIT दिल्ली से इंजीनियरिंग की थी। यहां भी उन्होंने अच्छे नंबर हासिल किए थे, जिससे उनकी नौकरी ICICI बैंक में लग गई थी।

IAS अधिकारी आशिमा गोयल (Photo- Facebook/IAS)

UPSC के लिए तैयारी करते समय आपको कई चीजों का ध्यान रखना पड़ता है। कई बार सभी तरीके अपनाने के बाद भी आपको इसमें सफलता हासिल नहीं हो पाती है। आज आपको आशिमा गोयल के बारे में बताएंगे। आशिमा हरियाणा के छोटे से शहर बल्लभगढ़ की रहने वाली हैं। उन्होंने यूपीएससी पास करने के लिए अपनी नौकरी तक छोड़ दी थी। क्योंकि वह बचपन से ही आईएएस अधिकारी बनना चाहती थीं।

आशिमा के पिता एक साइबर कैफे चलाते थे। उनकी शुरुआती पढ़ाई भी यहीं से हुई है। इसके बाद उन्होंने IIT दिल्ली से इंजीनियरिंग की थी। यहां भी उन्होंने अच्छे नंबर हासिल किए थे, जिससे उनकी नौकरी ICICI बैंक में लग गई थी। उन्होंने एम.टेक करने का फैसला किया। लेकिन वह यूपीएससी एग्जाम देकर आईएएस अधिकारी बनना चाहती थीं। एक इंटरव्यू में आशिमा ने बताया था, ‘मैंने इसका फैसला कर लिया था और कुछ अलग करना चाहती थी। करीब एक साल नौकरी करने के बाद मैंने इसे छोड़ने का फैसला किया था क्योंकि मुझे इसके लिए समय नहीं मिल पा रहा था।’

नोट्स बनाने पर देना चाहिए ज्यादा ध्यान: आशिमा ने बताया था कि उन्होंने यूपीएससी की तैयारी बिना किसी कोचिंग सेंटर के ही शुरू की थी। वह अपने दोस्तों के साथ नोट्स और आइडिया शेयर करती थीं। उन्होंने पहला प्रयास साल 2018 में किया था, लेकिन इसमें उन्हें असफलता हासिल हुई थी। इसके बाद भी उन्होंने अपनी तैयारी जारी रखी और कमजोरियों पर ज्यादा ध्यान देने का फैसला किया। यही वजह रही कि उन्होंने साल 2019 के UPSC एग्जाम में सफलता हासिल की।

आशिमा का मानना है कि इस परीक्षा के लिए सेल्फ-स्टडी बहुत जरूरी होती है। कई बार हम सिर्फ कोचिंग सेंटर पर ही आधारित हो जाते हैं जो ठीक नहीं है। हमें लगातार प्रयास करना चाहिए। नोट्स बनाने से हमारा काम काफी आसान हो जाता है। मैंने भी नोट्स बनाकर ही अपनी पढ़ाई की थी। क्योंकि सीधा बुक से पढ़ाई करने पर कई बार ज्यादा समय भी लगता है और बर्बाद भी होता है। कई बार आपके दोस्तों के अनुभव काफी मदद कर सकते हैं। इसलिए ज्यादा से ज्यादा उनसे सलाह लें जो यूपीएससी एग्जाम दे चुके हैं।

Next Stories
1 Safin Hasan: पापा इलेक्ट्रीशियन, मां दूसरों के घर बनाती थी रोटियां; बेटा 22 साल की उम्र में बना IPS
2 प्रेमी को घर बुलाकर करवा दी मां की हत्या, ईंट से किए सिर पर वार, शव को आंगन में फेंक हुए फरार
3 बुलेट बेचने के लिए ऑनलाइन ऐप पर दिया था विज्ञापन, ठगों ने खाते से उड़ा लिए 30 हजार रुपए
ये पढ़ा क्या?
X