scorecardresearch

UP: सपा विधायक ने ब्लॉक प्रमुख को 4 महीने से बना रखा था बंधक, पुलिस ने छापा मारकर छुड़ाया

बस्ती एसपी ने बताया कि 18 मार्च को रामकुमार के साले ओम प्रकाश ने तहरीर देकर बताया था कि सपा विधायक महेंद्रनाथ यादव ने रामकुमार को बंधक बना रखा है। वर्तमान में रामकुमार स्वयं बहादुरपुर के ब्लॉक प्रमुख हैं।

UP: सपा विधायक ने ब्लॉक प्रमुख को 4 महीने से बना रखा था बंधक, पुलिस ने छापा मारकर छुड़ाया
तस्वीर का इस्तेमाल प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (Photo Credit – Indian Express)

उत्तर प्रदेश के बस्ती से चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जिस पर कार्रवाई करते हुए यूपी पुलिस ने 18 मार्च की रात समाजवादी पार्टी के बस्ती जिला अध्यक्ष और बस्ती सदर से पार्टी के विधायक महेंद्र नाथ यादव के आवास पर छापेमारी की। दरअसल, विधायक पर आरोप था कि उन्होंने रामकुमार नाम के एक वर्तमान ब्लॉक प्रमुख और उनके परिवार को चार महीने से बंधक बना रखा है। वर्तमान में रामकुमार उत्तर प्रदेश के बहादुरपुर के ब्लॉक प्रमुख हैं।

पुलिस ने मामले की सूचना के बाद छापेमारी की तो इस दौरान रामकुमार और उनके परिवार को सपा विधायक के आवास पर पाया गया। इसके बाद भारी पुलिस बल की मौजूदगी में रामकुमार और उनके परिवार को मुक्त करा लिया। रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस छापेमारी के वक्त विधायक अपने घर पर ही मौजूद थे। बताया जा रहा है कि सपा विधायक महेंद्र नाथ यादव ने पिछले साल अक्टूबर में कथित तौर पर रामकुमार और उनके परिवार को बंधक बना लिया था।

पुलिस के मुताबिक, ब्लॉक प्रमुख रामकुमार के रिश्तेदार ओम प्रकाश की शिकायत पर कलवारी थाने में अपहरण का मामला दर्ज किया गया था। छापेमारी की कार्रवाई के बाद बस्ती के एसपी आशीष श्रीवास्तव ने एक वीडियो बयान जारी कर कहा कि पुलिस ने पीड़ित परिवार को सुरक्षा मुहैया कराई है। साथ ही उन्होंने इस पूरे मामले की जानकारी भी दी।

बस्ती एसपी आशीष श्रीवास्तव के मुताबिक, 18 मार्च को ओम प्रकाश नाम के व्यक्ति ने कलवारी थाने में सूचना दी थी कि उनके जीजा रामकुमार, जो कि बहादुरपुर के ब्लॉक प्रमुख हैं; उन्हें 23 अक्टूबर 2021 को समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष व विधायक महेंद्र नाथ यादव अपने साथ ले गए थे। ऐसे में 17 मार्च को उनके जीजा ने ओम प्रकाश को फोन पर बताया कि उन्हें महेंद्र नाथ यादव द्वारा बंधक बनाया गया है और कहीं जाने नहीं दिया जा रहा है।

फिर मामले में ओम प्रकाश की शिकायत के बाद प्राथमिकी दर्ज की गई और उनके द्वारा मुहैया कराए गए ऑडियो की भी जांच की गई। बस्ती के एसपी आशीष श्रीवास्तव ने कहा, कार्रवाई के तहत जब पुलिस मौके पर पहुंची तो रामकुमार सपा विधायक के घर पर मौजूद थे, जिन्हें सकुशल मुक्त करा लिया गया। एसपी के मुताबिक, मामले में आगे की जांच जारी है और पीड़ित पक्ष को पुलिस सुरक्षा दी गई है।

पढें जुर्म (Crimehindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 19-03-2022 at 02:51:41 pm
अपडेट