ताज़ा खबर
 

पुलिस अफसर ने पूछताछ के लिए बुलाया, फिर खंभे के पास खड़ा कर बेल्ट और बेंत से पीट डाला, वीडियो से मचा हड़कंप

थानाध्यक्ष शेष नारायण पांडेय का विवादों से गहरा नाता है। जब वो महाराजपुर थाने के एसएचओ थे तो ट्रिपल मर्डर केस में लापरवाही के चलते हटा दिए गए थे। इसके बाद पनकी थाने में भी उनसे जुड़ा पिटाई का मामला प्रकाश में आया था।

Author कानपुर | Published on: November 8, 2019 1:54 PM
युवक को पीटते थानाध्यक्ष (फोटो- स्थानीय)

कानपुर में एक बार फिर यूपी पुलिस की करतूत कैमरे में कैद हुई है। यहां पूछताछ के लिए थाने लाए गए एक शख्स को थानाध्यक्ष ने खंभे से पास खड़ा कर दिया और फिर बेल्ट से जमकर पीटा। इसके बाद बेंत से भी उसकी पिटाई की। सोशल मीडिया पर पुलिस की इस हरकत का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो देखकर आला अधिकारी हरकत में आ गए। इस संबंध में एसपी ग्रामीण ने जांच के आदेश दिए और दोषी पाए जाने पर कार्रवाई करने का भी आश्वासन दिया।

चीख-चीखकर गुहार लगाता रहा पीड़ितः मामला संचेडी थाना क्षेत्र के दरभंगदपुर का बताया जा रहा है। यहां के रहने वाले शिवम को थानाध्यक्ष शेष नारायण पांडेय पुलिस टीम के साथ पूछताछ के लिए पकड़कर लाए थे। पूछताछ के दौरान शेष नारायण पांडेय ने दो सिपाहियों की मदद से युवक को खंभे पकड़ाकर खड़ा कर दिया। इसके बाद पांडेय ने शिवम को पट्टे और बेंत से पीटा। इस दौरान युवक चीख-चीखकर रहम की गुहर लगाता रहा। फिर थानाध्यक्ष ने प्लास्टिक का बेंत मंगाया और उसके हाथों पर बरसाना शुरू कर दिया।

विवादों से पांडेय का पुराना नाताः शुक्रवार (8 नवंबर) को जैसे ही यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। सचेंडी पुलिस और आलाधिकारियों में हड़कंप मच गया। सचेंडी थानाध्यक्ष पूरे मामले को मैनेज करने में जुट गए। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक थानाध्यक्ष शेष नारायण पांडेय का विवादों से गहरा नाता है। जब वो महाराजपुर थाने के एसएचओ थे तो ट्रिपल मर्डर केस में लापरवाही के चलते हटा दिए गए थे। इसके बाद पनकी थाने में भी उनसे जुड़ा पिटाई का मामला प्रकाश में आया था।

Hindi News Today, 08 November 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की तमाम अहम खबरों के लिए क्लिक करें

एसपी ने दिया कार्रवाई का आश्वासनः एसपी ग्रामीण प्रद्युम्न सिंह के मुताबिक सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें एक युवक को पीटा जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘इस संबंध में क्षेत्राधिकारी सदर को जांच दी गई है। यह देखा जा रहा है कि किन परिस्थितियों में यह घटना हुई है और इसमें कितने तथ्य हैं। इसमें जो लोग दोषी पाए जाएंगे उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Jharkhand Lynching: बैटरी चोरी के शक में पीट-पीटकर मुबारक अंसारी की हत्या, बेटा बोला- जानने वाले थे वो लोग, पुलिस को क्यों नहीं सौंपा
2 3 महिलाओं को बाइक पर बिठाकर जा रहा था, चालान बना रही लेडी कॉन्स्टेबल को 50 मीटर तक घसीट डाला
3 Virender Sehwag के रिश्तेदार को मार डाला, फिर किया एक और कत्ल, शूटआउट के बाद ऐसे दबोचा गया आरोपी
जस्‍ट नाउ
X