scorecardresearch

पिता ने वार्ड बॉय से बेटी को लगवा दिया हाई डोज इंजेक्शन, सामने आई चौंकाने वाली वजह

UP: मेरठ के फ्यूचर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती एक युवती की हत्या का प्रयास किया गया। इस मामले में पीड़िता के पिता समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

पिता ने वार्ड बॉय से बेटी को लगवा दिया हाई डोज इंजेक्शन, सामने आई चौंकाने वाली वजह
तस्वीर का इस्तेमाल प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (Photo Credit – Pixabay)

उत्तर प्रदेश के मेरठ से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। जहां एक पिता ने अपनी बेटी के प्रेम-प्रसंग से तंग आकर उसकी हत्या करवाने का प्रयास किया। आरोपी पिता ने इस काम के लिए एक अस्पताल के वार्ड बॉय को 1 लाख रुपए की सुपारी दी थी। जिसमें वार्ड बॉय ने लड़की को पोटैशियम क्लोराइड का हाई डोज इंजेक्शन दे दिया, जिससे उसकी तबीयत अचानक बिगड़ गई।

मोदीपुरम के फ्यूचर अस्पताल का मामला

स्थानीय पुलिस ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि घटना मेरठ के मोदीपुरम इलाके की है। जिसमें फ्यूचर अस्पताल (Future Hospital Modipuram) में इलाज के लिए भर्ती एक युवती की हत्या का प्रयास किया गया। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि नवीन कुमार ने शुक्रवार देर रात अपनी बेटी को कंकरखेड़ा के एक अस्पताल में भर्ती कराया था, लेकिन कुछ घंटों बाद उसे मोदीपुरम के फ्यूचर प्लस अस्पताल में भेज दिया गया, जहां रात में लड़की की तबीयत अचानक बिगड़ गई।

पोटैशियम क्लोराइड (KCL) का हाई डोज का इंजेक्शन लगाया गया

पुलिस के मुताबिक, जब अस्पताल में जांच की गई तो पता चला कि उसे पोटैशियम क्लोराइड (Kcl) का हाई डोज का इंजेक्शन लगाया गया था। पुलिस अधिकारी ने कहा कि सीसीटीवी फुटेज को स्कैन करने पर इंजेक्शन लगाने वाले की पहचान नरेश कुमार के रूप में हुई और उसे हिरासत में ले लिया गया। पूछताछ में नरेश कुमार ने पुलिस को बताया कि महिला के पिता ने उसे मारने के लिए एक लाख रुपये दिए थे।

पीड़िता का पिता, वार्ड बॉय और महिला कर्मचारी अरेस्ट

पुलिस ने बताया कि वह अस्पताल का डॉक्टर बनकर महिला कर्मचारी की मदद से वह आईसीयू (ICU) में दाखिल हुआ और उसी ने युवती को इंजेक्शन लगाया था। आरोपी नरेश के बयान के आधार पर महिला कर्मचारी और पीड़िता के पिता को हिरासत में लेकर बाद में तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया।

प्रेम संबंध खत्म करवाना चाहते थे पिता

आरोपी पिता नवीन कुमार ने पुलिस को बताया कि उसकी बेटी का एक युवक के साथ संबंध था और काफी मना करने के बाद भी वह प्रेम संबंध (Love Affair) को खत्म करने के लिए तैयार नहीं थी। लड़की को अस्पताल में भर्ती कराते समय आरोपी पिता ने बताया था कि उनकी बेटी छत पर मौजूद बंदरों के झपट्टे से बचने के चक्कर में छत से गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गई थी।

इंजेक्शन व कॉन्ट्रैक्ट किलिंग के 90 हजार रुपए बरामद

हालांकि, पूछताछ के दौरान सामने आया कि युवती गिरी नहीं बल्कि युवक से प्रेम प्रसंग को लेकर परिवार में झगड़े के बाद खुद ही छत से कूदी थी। वहीं, इस मामले में पुलिस ने नरेश कुमार के पास से 90,000 रुपये और एक टूटा हुआ इंजेक्शन भी बरामद किया है, जिसमें पोटैशियम क्लोराइड भी कुछ मात्रा में पाया गया है।

पढें जुर्म (Crimehindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.