ताज़ा खबर
 

UP: जेल में बंद शूटर के गुर्गे ने प्रॉपर्टी डीलर से मांगी रंगदारी, 5 साल पहले की थी डीलर के भाई की हत्या

जेल में बंद बनारस के शूटर अमित जयसवाल के गुर्गे ने प्रॉपर्टी डीलर से रंगदारी है। पांच साल पहले पर्टी डीलर के भाई की गोलों मारकर हत्या की गई थी।

Author कानपुर | July 9, 2019 6:47 PM
कानपुर में फोन करके मांगी रंगदारी

उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक प्रॉपर्टी डीलर से जेल में बंद बनारस के शार्प शूटर अमित जायसवाल के गुर्गे द्वारा रंगदारी मांगने का मामला सामने आया है। पीड़ित ने किदवई नगर थाने में ऑडियो क्लिप के साथ इसकी शिकायत दर्ज कराई है। बता दें कि पांच साल पहले इसी प्रॉपर्टी डीलर के बड़े भाई की हत्या हुई थी। ऐसे में रंगदारी की मांग से पीड़ित दहशत में है और पुलिस से उचित कार्रवाई करने की मांग की है।

National Hindi News, 09 July 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

क्या है मामला: मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक किदवई नगर थाना क्षेत्र स्थित विनोबा नगर में रहने वाले प्रशांत गुप्ता प्रापर्टी डीलिंग का काम करते थे। जिनकी हत्या 26 मई 2014 को निरंकारी चौराहे स्थित उनके ऑफिस के बाहर गोली मारकर की गई थी। प्रशांत गुप्ता की हत्या में राजू गर्ग का हाथ माना जाता है जिसने बनारस के दो अपराधियों अमित जयसवाल और अभिनव जयसवाल को सुपारी दी थी। फिलहाल अभी दोनों जेल में बंद हैं। प्रशांत की हत्या के बाद उनके छोटे भाई विशाल गुप्ता पूरे मामले की पैरवी कर रहे है। बताया जा रहा है कि जेल में बंद शूटर विशाल गुप्ता पर केस वापस लेने का कई बार दबाव बना चुके है। 2015 में उनपर जानलेवा हमला भी हुआ था। लेकिन इस बीच उनके पास किसी अज्ञात ने फोन कर रंगदारी मांगी है। जिसकी शिकायत उन्होंने पुलिस में दर्ज करा दी है।

ऑडियो क्लिप में बातचीत रिकॉर्ड: प्रॉपर्टी डीलर डीलर विशाल गुप्ता ने बताया कि फोन करने वाले शख्स ने कहा कि यह नंबर अमित जायसवाल ने दिया है। वह पेशी के लिए नहीं जा पा रहे है इसलिए आप 10 हजार रुपया और खाने का कुछ समान अपने ड्राईवर से भेज दो। जब विशाल गुप्ता ने पूछा कि आप कांस्टेबल कौन हो तो उसने अपना नाम विजय बताते फोन काट दिया। इस मामले में सीओ बाबूपुरवा मनोज गुप्ता ने कहा कि शिकायतकर्ता विशाल गुप्ता का कहना है कि किसी के द्वारा उनसे रंगदारी मांगी गई है। इस पर 384 और 507 की धाराओं मे मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि कॉल डिटेल निकालकर घटना की जांच की जा रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App