scorecardresearch

तुर्की के अमीर व्यवसायी ने की पुलिस से अजीबोगरीब शिकायत, कहा- ‘उसका स्पर्म चोरी हो गया है’

तुर्की की अदालत ने इस विचित्र मामले में टिप्पणी देते हुए कहा कि किसी आदमी का शुक्राणु (Sperm) चोरी नहीं हो सकता है।

Turkish businessman claims his sperm stolen, HST, In Vitro Fertilization, Sperm
प्रतीकात्मक तस्वीर। (File Photo)

दुनिया में आए दिन अजीबोगरीब किस्से सामने आते हैं। ऐसा ही एक मामला तुर्की से सामने आया है। यहां के एक बड़े व्यवसायी ने पुलिस से शिकायत में कहा है कि उसका स्पर्म चोरी हो गया है। कारोबारी ने ये आरोप तब लगाए, जब एक महिला उसके खिलाफ कोर्ट पहुंच गई।

तुर्की से सामने आई इस अजीबोगरीब शिकायत के पीछे की एक पूरी कहानी है। दरअसल, तुर्की (Turkey) के शिकायतकर्ता व्यवसायी और एक महिला के बीच सालों पहले एक करार हुआ था। हाल ही में व्यवसायी के इस करार से मुकरने के बाद जब महिला उसके खिलाफ कोर्ट पहुंची तो व्यवसायी ने स्पर्म चोरी की शिकायत की।

इस मामले में अभी तक तुर्की के अमीर व्यवसायी की पहचान सामने नहीं आई है, लेकिन कोर्ट के दस्तावेजों में इसे HST का नाम दिया गया है। मामला साल 2000 का है, जब 45 वर्षीय सेवाताप सेनसारी (Sevtap Sensari) नाम की महिला को तुर्की के एक अमीर तलाकशुदा व्यवसायी HST से प्यार हुआ और दोनों रिलेशनशिप में आ गए।

व्यवसायी HST ने महिला से कहा कि वह एक बेटा चाहता है। इसके बाद दोनों कपल इस बात पर राजी हुए कि वे लड़का होने की गारंटी के लिए इन विट्रो फर्टिलाइजेशन (IVF) का सहारा लेंगे। इस वादे में HST ने कहा था कि यदि डीएनए परीक्षण से यह साबित हो गया कि बच्चा उसका है तो वह महिला से शादी करेगा, बेटे को अपना नाम और दोनों को आर्थिक मदद भी देगा।

साल 2015 में सेवाताप सेनसारी इन विट्रो फर्टिलाइजेशन की प्रक्रिया के तहत व्यवसायी HST का स्पर्म लेकर साइप्रस गई। स्पर्म को इस प्रक्रिया के तहत साइप्रस ले जाना इसलिए भी एक कारण था, क्योंकि तुर्की की मेडिकल प्रणाली अविवाहित जोड़ों को इन विट्रो फर्टिलाइजेशन की सुविधा नहीं देती।

साइप्रस में ही सेवाताप सेनसारी के गर्भ में दो नर भ्रूणों को स्थापित कर दिया गया। ऐसे में 9 महीने बाद सेवाताप दो जुड़वां बच्चों की मां बनी। बच्चों के जन्म के बाद जब सेनसारी व्यवसायी HST के पास आई तो वह अपने वादे से मुकर गया। इसके अलावा सेवाताप और उसके दोनों बच्चों के साथ गलत व्यवहार भी किया। नौबत यहां तक आ पहुंची कि महिला को कोर्ट जाना पड़ा और उसने HST से 20 लाख रुपयों की मांग रखी।

कोर्ट में महिला ने बताया कि व्यवसायी HST ने करीबन 17 साल तक मेरे साथ मारपीट की, लेकिन मैं नहीं चाहती कि बच्चे होने के बाद भी ऐसा हो। हालांकि, HST ने कोर्ट के सामने डीएनए सैंपल देने से इंकार कर दिया और फैमिली कोर्ट को बताया कि उसका स्पर्म चोरी हो गया था।

फिलहाल इस पितृत्व मामले में अभी तक कोई फैसला नहीं आया है। लेकिन कोर्ट ने स्पर्म चोरी होने की घटना पर कहा है कि, यदि सेवाताप सेनसारी को स्पर्म मिला तो इसका मतलब है कि HST ने उसे स्वेच्छा से ही दिया होगा। साथ ही कोर्ट ने यह भी माना कि व्यवसायी HST ही बच्चों का पिता है।

पढें जुर्म (Crimehindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट