ताज़ा खबर
 

Greater Noida: 3 और लोग बेचते थे बिरयानी के लिए गोमांस, डर की वजह से कई लोगों ने नहीं खोलीं अपनी दुकानें

नूरपुर में गोवंश का मांस मिलने की खबर से आसपास के इलाकों में डर का माहैल है। इस वजह से शनिवार (25 मई) को इलाके में बिरयानी विक्रेताओं ने अपनी रेहड़ी नहीं लगाई।

Author ग्रेटर नोएडा | May 26, 2019 6:11 PM
प्रतीकात्मक फोटो (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

ग्रेटर नोएडा के जारचा गांव में बिरयानी में गोमांस इस्तेमाल होने की खबर से कई दुकानदारों में दहशत का माहौल रहा। इस दौरान बिरयानी बेचने वाले कई दुकानदारों ने शनिवार (25 मई) को अपनी दुकानें नहीं खोलीं। उधर, पुलिस गिरफ्त में मौजूद दोनों आरोपियों ने इस धंधे में तीन और लोगों के शामिल होने की जानकारी दी है, जो मामले का खुलासा होते ही फरार हो गए। पुलिस उनकी तलाश में भी जुट गई है।

 

तीन आरोपियों के नाम आए सामने: जारचा गोवंश मामले में शुक्रवार (24 मई) को गिरफ्तार दो आरोपियों ने पुलिस को अहम जानकारी दी हैं। उन्होंने बताया कि तैमूर, तस्लीम और वारिस अली भी इस धंधे में शामिल हैं। तैमूर और तस्लीम पुलिस द्वारा गिरफ्तार आरोपी याकूब के बेटे हैं। आरोपियों ने बताया कि वे लावारिस मवेशियों को काटकर बिरयानी विक्रेता और अन्य खरीदारों को मांस की होम डिलीवरी करते थे। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी जाहिद और याकूब को आर्म्स एक्ट, गोवंश संरक्षण, गो संवर्धन और पशु क्रूरता अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया है। बता दें कि अब पुलिस को फरार तीन आरोपियों की तलाश है।

बिरयानी विक्रेताओं ने नहीं लगाई रेहड़ीः रिपोर्ट्स के मुताबिक, नूरपुर में गोवंश का मांस मिलने की खबर से आसपास के इलाकों में डर का माहैल है। इस वजह से शनिवार (25 मई) को इलाके में बिरयानी विक्रेताओं ने अपनी रेहड़ी नहीं लगाई। वहीं, मामला सामने आने पर गांव वालों ने भी नाराजगी व्यक्त की।

National Hindi News, 26 May 2019 LIVE Updates: पढ़ें आज की बड़ी खबरें

गौरतलब है कि इस मामले में पुलिस ने अभी तक दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से दो बंदूक और पशुओं को काटने वाले हथियार भी बरामद हुए हैं। वहीं अवैध हथियारों के बारे में आरोपियों ने पुलिस को बताया कि उन्होंने जिससे हथियार खरीदे थे, उसकी मौत हो चुकी है। बता दें कि आरोपी इस अपराध को कई साल से अंजाम दे रहे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X