मध्य प्रदेश: दस साल की बच्ची के मुंह में कपड़ा डाल किया रेप, खेत में मिली लाश - Ten Year Old Girl was Murdered After Rape in MP - Jansatta
ताज़ा खबर
 

मध्य प्रदेश: दस साल की बच्ची के मुंह में कपड़ा डाल किया रेप, खेत में मिली लाश

फॉरेंसिक साइंस प्रयोगशाला की रिपोर्ट के अनुसार, उसका बलात्कार किया गया है और दम घुटने से उसकी मौत हुई है।

Author देवास | November 6, 2017 9:37 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

मध्यप्रदेश के देवास जिले के काँटाफोड़ थानां अंतर्गत 10 वर्षीय एक बच्ची के साथ कथित रूप से बलात्कार करने के बाद उसकी हत्या कर दी गई। थाना प्रभारी सीएल कटारे ने बताया कि इस बच्ची का शव रविवार सुबह एक खेत पर पड़ा मिला। बच्ची के मुंह पर कपडा ठूंसा हुआ था और पैर बंधे हुए थे। यह घटना देवास जिला मुख्यालय से करीब 90 किलोमीटर दूर हुई। उन्होंने कहा कि बच्ची शुक्रवार को खेत पर अपने पिता को चाय देने के लिए निकली थी। वह अपने पिता के पास पहुँच ही नहीं सकी। रास्ते में ही गुम हो गई।

इसके बाद रविवार सुबह ग्रामीणों को उसकी लाश मिली। कटारे ने बताया कि बच्ची के शव की जांच करने के बाद चिकित्सकों एवं फॉरेंसिक साइंस प्रयोगशाला की रिपोर्ट के अनुसार, उसका बलात्कार किया गया है और दम घुटने से शुक्रवार को मौत हुई है। उन्होंने बताया कि उसके शरीर में कई जगहों पर दांत से काटने के निशान पाए गए हैं। एक ही व्यक्ति के दांतों के निशान उसके शरीर पर हैं। इससे ऐसी आशंका जताई जा रही है कि एक ही व्यक्ति ने इसके साथ दुष्कर्म किया।

उन्होंने बताया कि आरोपी का अब तक पता नहीं चल पाया है। उसे ढूंढने के प्रयास जारी हैं। कटारे ने बताया, ‘‘हमने अज्ञात आरोपी के खिलाफ इस मामले में आईपीसी की धारा 376 (बलात्कार) एवं 302 (हत्या) के साथ पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस मामले में जांच कर रही है।’’ गौरतलब है कि मध्य प्रदेश के भोपाल में कुछ दिनों पहले ही एक दिलदहला देने वाला मामला सामने आया है, जहां पर कोचिंग से घर लौट रही 19 वर्षीय यूपीएससी छात्रा को अगवा कर उसका गैंगरेप किया गया और फिर उसे जान से मारने की कोशिश की गई। इस घटना में सबसे शर्मिंदगी की बात तो यह रही कि जब पीड़िता ने अपने साथ हुए हादसे की शिकायत लिखवानी चाही तो पुलिस ने केस दर्ज करने से इनकार कर दिया। यह घटना 31 अक्टूबर की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App