scorecardresearch

Delhi Crime : मोबाइल छीनने का विरोध किया तो चाकू से स्टूडेंट का गला काटा, भाटी माइंस में मिली लाश- पकड़े गए दो नाबालिग आरोपी

Delhi Police ने कहा कि हिरासत में नाबालिग आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। उन्हें Juvenile Justice Board के समक्ष पेश किया जाएगा।

Delhi Crime : मोबाइल छीनने का विरोध किया तो चाकू से स्टूडेंट का गला काटा, भाटी माइंस में मिली लाश- पकड़े गए दो नाबालिग आरोपी
हर्ष के परिवार ने कहा कि वह अपने दोस्तों से मिलने के लिए घर से निकला था, लेकिन वापस नहीं लौटा। (Photo- Indian Express)

South Delhi Murder Case: दक्षिण दिल्ली के मैदान गढ़ी (Maidan garhi) में एक 18 वर्षीय लड़के की लूट की कोशिश का विरोध करने पर कथित रूप से दो नाबालिगों द्वारा बेरहमी से चाकू मारकर हत्या (Stabbed to death) कर दी गई। सबूत मिटाने के लिए उस पर अज्ञात रासायनिक पदार्थ (Chemical) से भी हमला किया गया था। दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने इस हत्या के आरोपी दोनों नाबालिगों को हिरासत में ले लिया है और उनसे पूछताछ कर रही है।

Bhati Mines के जंगल में मिला लड़के का शव

जानकारी के मुताबिक दिल्ली के एक सरकारी स्कूल (Government School) में 12वीं कक्षा में पढ़ने वाला लड़का शनिवार दोपहर अपने दोस्तों के साथ नूडल्स खाने के लिए घर से निकला था, लेकिन 15 साल की उम्र के दो नाबालिगों ( Two Minors) ने उस पर हमला कर उसका कत्ल कर दिया। पुलिस ने कहा कि लड़के का शव भाटी माइंस (Bhati Mines) में फेंक दिया गया था। वहीं पास के जंगल वाले इलाके में उसका शव बरामद किया गया था। उसके परिवार ने रविवार को आरोप लगाया कि उसे एक दर्जन से अधिक बार चाकू मारा (Stabbed) गया। पुलिस ने कहा कि वे आरोपों की पुष्टि कर रहे हैं।

दादा-दादी के साथ रहता था हर्ष, मां-पिता की हो चुकी है मौत

पुलिस के अनुसार, उन्हें शनिवार दोपहर करीब 2.23 बजे भाटी माइंस में एक शव मिलने के बारे में पीसीआर कॉल (PCR Call) मिली। डीसीपी (साउथ) चंदन चौधरी ने कहा, ‘हम मौके पर पहुंचे और शव को देखा। उस पर चाकू के कई वार थे और गर्दन पर गहरा कट भी था। पूछताछ की गई तो मृतक की पहचान संजय कॉलोनी निवासी हर्ष के रूप में हुई। उनकी दादी ने उनके शरीर की पहचान की थी। लड़का अपने दादा-दादी के साथ ही रहता था।’

CCTV Footage की मदद से आरोपियों को पकड़ा

पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण करने के लिए एक क्राइम टीम को बुलाया। इसके बाद हर्ष के शव को पोस्टमार्टम के लिए एम्स दिल्ली (AIIMS, Delhi) भेज दिया गया। पुलिस ने कहा, “हमने परिवार के सदस्यों और दोस्तों से पूछताछ की। इलाके के कई सीसीटीवी (CCTV Footage) चेक किए गए और हमने लड़के के घर से जंगल तक के रास्ते की मैपिंग की। हमने फुटेज में दो लड़कों को देखा और उन्हें पकड़ लिया। लगातार पूछताछ करने पर दोनों ने कथित तौर पर हर्ष की हत्या करने की बात स्वीकार की। हमने उनके द्वारा इस्तेमाल किया गया चाकू और उनके द्वारा चुराया गया मोबाइल फोन (Mobile Phone) बरामद कर लिया है।”

Chemical की पहचान में लगी दिल्ली पुलिस

पुलिस पूछताछ में दोनों नाबालिग आरोपियों ने खुलासा किया कि वे हर्ष से एक फोन छीनना चाहते थे। इसलिए हर्ष पर हमला (Attack) किया। उसने विरोध करने की कोशिश की और अपना फोन नहीं दिया। पुलिस ने कहा कि इसके बाद उन दोनों कथित तौर पर हर्ष को कई बार चाकू मारा, उसकी गर्दन काट दी और उस पर जहरीले रसायनिक पदार्थ (Chemical) डाल दिया। पुलिस के मुताबिक दोनों आरोपी दिखाना चाहते थे कि वे गुंडे हैं, जिससे हर्ष डरकर फोन दे दे। एक पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘हम जांच कर रहे हैं कि उन्होंने किस तरह के रसायन का इस्तेमाल किया।’

दादा बोले – दोस्तों के साथ Noodles खाने निकला था हर्ष

इस बीच, हर्ष के परिवार ने कहा कि वह अपने दोस्तों से मिलने के लिए घर से निकला था, लेकिन वापस नहीं लौटा। हर्ष के दादा चंदा राम ने कहा, “वह 7-8 साल की उम्र से हमारे साथ रह रहा था। उसके माता-पिता की एक दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी। मुझे उसका ख्याल रखना चाहिए था। वह उस दिन स्कूल नहीं गया। बाद में उसने नूडल्स (Noodles) खरीदने और दोस्तों के साथ पार्टी करने के लिए पैसे मांगे। तब आखिरी बार मैंने उसे देखा था। इसके बाद वह लापता हो गया। हमने घंटों खोजा लेकिन वह नहीं मिला।’

हर्ष की Deadbody देखकर बेहोश हो गईं दादी

हर्ष के दादा चंदा राम ने कहा कि बाद में पुलिस ने हमसे संपर्क किया और हमें उसके शव के बारे में बताया। हम उसे देखकर दंग रह गए। उसके सीने, गर्दन और पीठ पर चाकू के कई घाव हैं। हमें नहीं पता कि क्या हुआ। चंदा राम की पत्नी जानकी ने कहा कि उन्होंने घंटों तक अपने पोते की तलाश की और बाद में उसे एक चट्टान पर मृत पाया। “जब मैंने उसका शरीर देखा तो मैं बेहोश हो गई। आरोपियों ने उसका चेहरा जला दिया और चाकू मार दिया। वह कभी किसी से नहीं लड़ा। वह बाहर खेलने और दोस्तों के साथ घूमने जा रहा था। यह कैसे हो सकता है?”

Juvenile Justice Board के सामने पेश होंगे आरोपी

चाकू के घावों की संख्या और जलने की चोटों की प्रकृति की पुष्टि करने के लिए पुलिस पोस्टमार्टम (Postmartem) और मेडिकल जांच रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। पुलिस ने कहा कि नाबालिगों से पूछताछ की जा रही है और उन्हें किशोर न्याय बोर्ड (Juvenile Justice Board) के समक्ष पेश किया जाएगा। इस घटना के सामने आने के बाद इलाके में डर फैल गया है।

पढें जुर्म (Crimehindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 22-01-2023 at 07:56:32 pm