ताज़ा खबर
 

दक्षिण भारत में 30 रेप और 15 हत्या करने वाला सनकी, काला बैग रखता था साथ

कहा जाता है कि इसके बाद साल 2009 में जुलाई के महीने में उसने 45 साल की एक महिला का साथ रेप की कोशिश की और जब महिला ने इसका विरोध किया तो उसने महिला की हत्या कर दी।

यह शख्स अपने साथ हमेशा एक काला बैग रखा करता था। प्रतीकात्मक तस्वीर।

दक्षिण भारत के बड़े राज्य मसलन – तमिलनाडु, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में इस शख्स ने आतंक मचा रखा था। उसके निशाने पर लड़कियां होती थीं। वो लड़कियों का रेप करता और फिर उन्हें बेरहमी से मार डालता। यूं तो इस हत्यारे और सीरियल रेपिस्ट पर 15 हत्या और 30 रेप के दोष साबित हुए। लेकिन कहा जाता है कि उसने इससे कहीं ज्यादा खून और दुष्कर्म की घटनाओं को अंजाम दिया। हम बात कर रहे हैं खूंखार किलर एम. जयशंकर की। पेशे से ट्रक ड्राइवर एम. जयशंकर ने साल 2008 में जुर्म की दुनिया में कदम रखा। इस साल तक उसने दुष्कर्म की कुछ वारदातों को अंजाम दिया।

कहा जाता है कि इसके बाद साल 2009 में जुलाई के महीने में उसने 45 साल की एक महिला का साथ रेप की कोशिश की और जब महिला ने इसका विरोध किया तो उसने महिला की हत्या कर दी। जानकारी के मुताबिक इस साल इसने साउथ इंडिया में अलग-अलग जगहों पर 12 महिलाओं के साथ रेप किया और फिर उनकी हत्या कर दी। इसके अलावा 6 अन्य महिलाओं के साथ उसने रेप भी किया। एम. जयशंकरन ज्यादातर वेश्याओं को अपना शिकार बनाता था। उसके बारे में यह भी कहा जाता था कि वो हमेशा अपने साथ एक काला बैग रखता था। इस बैग में तेज धार वाला हथियार होता था।

साल 2011 में एम. जयशंकर की शादी भी हो गई और बाद में उसने तीन बेटियां भी हुईं। साल 2013 से पहले एम. जयशंकर को दो बार पुलिस ने पकड़ा और दोनों बार वो जेल से फरार भी हो गया। लेकिन 6 सितंबर 2013 को पुलिस ने इसे जब पकड़ा तो यह जेल की सख्त पहरेदारी में कैद हो गया। हालांकि सख्त सुरक्षा घेरे के बावजूद एम. जयशंकर ने जेल से भागने की कोशिश की थी लेकिन वो नाकाम हो गया था।

साल 2017 में इस वहशी दरिदें पर एक कन्नड़ फिल्म ‘साइको शंकर’ भी बनी थी। साल 2018 में एम. जयशंकर ने बेंगलुरु के बाहरी इलाके में परप्पन अग्रहारा जेल में खुदकुशी कर ली। जानकारी के मुताबिक उसने शेविंग ब्लेड से अपना गला काट लिया था। उस वक्त उसे गंभीर हालत में अस्पताल में भी भर्ती कराया था लेकिन यहां अस्पताल में डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। (और…CRIME NEWS)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App