ताज़ा खबर
 

जेल में हो गई गर्भवती, वो महिला गैंगस्टर जो छात्र जीवन से ही करने लगी किडनैपिंग

20 जुलाई 2015 को मुकेश पाठक पुलिस वालों को चकमा दे कर फरार हो गया। इसी दौरान पूजा की तबियत खराब हुई और उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया।

CRIME, CRIME NEWSमहिला गैंगस्टर अपहरण की मास्टर माइंड थी।

आज हम जिस लेडी डॉन की बात कर रहे हैं उसने छात्र जीवन में ही अपराध का रास्ता अख्तियार कर लिया। उसने कई बड़े कारनामों को अंजाम दिया। खास बात यह है कि इस गैंगस्टर ने एक गैंगस्टर को ही अपना जीवन साथी भी चुना। हम बात कर रहे हैं बिहार की कुख्यात गैंगस्टर पूजा पाठक की। पूजा जब राजधानी पटना में रहकर पॉलिटेक्निक की पढ़ाई कर रही थी तब ही उसने जरायम की दुनिया में कदम रख दिया था। छात्र जीवन में अपराध की दुनिया में छा जाने वाली इस कुख्यात गैंगस्टर को मुख्य रुप से किडनैपिंग की वारदात को अंजाम देने के लिए जाना जाता था। कॉलेज में पढ़ाई करने के दौरान उसकी मुलाकात कैलाश नाम के एख शख्स से हुई और उसके बाद इनकी दोस्ती गहरा गई। पूजा और उसके साथी इसके बाद से ही अपहरण के धंधे में उतरे।

साल 2013 में पूजा ने अपने साथियों के साथ मिलकर 2 लोगों को किडनैप किया। इस अपहरण कांड के बाद पूजा का नाम सुर्खियों में छा गया। पूजा का नाम इसलिए सुर्खियों में आया क्योंकि उसने फाइनेंस कंपनी में काम करने वाले नीरज कुमार का अपहरण करने के बाद उसके परिजनों से फिरौती की मांग भी की थी। बड़ी मुश्किल से अपहरकर्ताओं को फिरौती की रकम देकर उनके परिजनों ने नीरज को रिहा कराया था। इस कांड की मास्टर माइंड पूजा थी और इस कांड के बाद तो बिहार में ‘लेडी डॉन’ पूजा की हर तरफ चर्चा होने लगी। इसी साल पूजा को नीरज कुमार के अपहरण के आरोप में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसके कारनामों को देखते हुए उसके खिलाफ काफी मजबूत चार्जशीट तैयार की थी। अदालत ने पूजा ठाकुर को आजीवन कैद की सजा सुनाई है।

लेकिन जेल जाने के बाद भी यह लेडी गैंगस्टर सुर्खियों में बनी रही। दरअसल बिहार की शिवहर मंडलकारा जेल में बंद पूजा की मुलाकात यहां राज्य के कुख्यात गैंगस्टर मुकेश पाठक से हुई। जेल में ही दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ीं और फिर 14 अक्टूबर 2013 को जेल में हीं पूजा की शादी उसके प्रेमी मुकेश पाठक के साथ कराई गई। 20 जुलाई 2015 को मुकेश पाठक पुलिस वालों को चकमा दे कर फरार हो गया।

इसी दौरान पूजा की तबियत खराब हुई और उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल में इलाज के दौरान खुलासा हुआ कि पूजा 12 हफ्ते की गर्भवती है। यह बात सुनकर पुलिस वालों के हाथ-पांव फूल गए। प्रशासन पर सवाल उठे की आखिर कोई कैदी जेल में गर्भवती कैसे हो सकती है? इस मामले में शिवहर जेल के कुछ पुलिस कर्मियों पर बाद में कार्रवाई भी हुई थी। बहरहाल आज पूजा की एक बेटी भी है। (और…CRIME NEWS)

Next Stories
1 पत्नी से लड़ाई के बाद बेटी का कर दिया रेप, आरोपी फरार
2 घोड़ा, बकरी, कुत्ता से बनाते थे यौन संबंध, अदालत ने सुनाई इतने साल जेल की सजा
3 पांच ने नाबालिग को बनाया हवस का शिकार, वीडियो सोशल मीडिया पर डाला
चुनावी चैलेंज
X