मां को मार बॉडी पार्ट्स पका कर खाया और डॉगी को भी खिलाया, पुलिस ने बेटे को घर से पकड़ा था

कुछ रिपोर्ट्स में यह बताया जा रहा है कि गिऱफ्तारी से पहले वो ड्रग्स एडिक्टेड था और पर्सनैलिटी डिजऑर्डर से भी वो जूझ रहा है।

crime, crime newsजब पुलिस वहां पहुंची तब युवक मानव अंग को पका रहा था। सांकेतिक तस्वीर।

वीभत्स अपराध से जुड़ी खबरें अक्सर हमें चौंका देती हैं। कई बार भयानक अपराध के बारे में जानने के बाद हम अपराधी की मनोदशा के विषय में सोचने के लिए मजबूर हो जाते हैं। आज हम बात कर रहे हैं एक ऐसे ही वीभत्स हत्याकांड की जिसमें आरोपी की निर्ममता सुनकर आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे। साल 2019 में पुलिस ने स्पेन में रहने वाले Alberto Sánchez Gómez को उसके घर से गिरफ्तार किया था। Alberto Sánchez Gómez पर अपनी 66 साल की मां का कत्ल करने का आरोप था। पुलिस को इस हत्या की खबर उनकी एक मित्र से मिली थी। अब इस Alberto Sánchez Gómez पर अदालत में ट्रायल शुरू हुआ है।

यहां पुलिस ने बताया था कि जब उन्होंने घर से Alberto Sánchez Gómez को पकड़ा था तब उस वक्त उसके घर में जहां-तहां मानव अंग बिखड़े पड़े थे। कुछ मानव अंग प्लास्टिक के कंटेनर में भी रखे हुए थे।

Alberto Sánchez Gómez पर आरोप है कि उसने अपनी मां का कत्ल कर उनके डेड बॉडी को कई टुकड़ों में काटा और फिर इन टुकड़ों को पका कर खाया भी। इतना ही नहीं उसने अपने डॉगी को भी मानव अंग खिलाए। हालांकि अदालत में बचाव पक्ष ने कहा कि Alberto Sánchez Gómez को याद नहीं है कि उसने अपनी मां को मारा और फिर उन्हें पका कर खाया।

कुछ रिपोर्ट्स में यह बताया जा रहा है कि गिऱफ्तारी से पहले वो ड्रग्स एडिक्टेड था और पर्सनैलिटी डिजऑर्डर से भी वो जूझ रहा है। Alberto Sánchez Gómez की मां María Soledad Gómez की मौत बेहद दर्दनाक हुई थी। पुलिस ने यह भी बताया था कि जब उसे गिरफ्तार किया गया था तब कुछ मानव अंग पकाए जा रहे थे और कुछ कंटेनर में रखे गए थे।

ट्रायल के दौरान यह बात भी सामने आई है कि आरोपी Alberto Sánchez Gómez ने जांचकर्ताओं के सामने अपनी मां की हत्या कर उनकी बॉडी पार्ट्स खाने की बात को स्वीकार किया है।

Next Stories
1 सैकड़ों गाड़ियां चुराई, MBA कर लेडी डॉन बनी श्वेता गुप्ता की कहानी
2 दाऊद के लिए गोली भी खाई, डॉन के मार्गदर्शक की कहानी…
3 डॉन बनने के लिए बनाना चाहता था ‘रावण गैंग’, गर्लफ्रेंड का नाम रखा था ‘मंदोदरी’; हुआ था यह अंजाम
यह पढ़ा क्या?
X