scorecardresearch

मूसेवाला मर्डर केसः शार्प शूटर केशव अरेस्ट, CBI मान लेती अगर पुलिस की यह सिफारिश तो शायद जिंदा होते सिद्धू

Sidhu Moosewala Murder: मूसेवाला हत्याकांड में अब अंडरवर्ल्ड डॉन अरुण गवली के गैंग की भूमिका भी सामने आई है। पुलिस ने अब तक मूसेवाला हत्याकांड में अब तक 8 शार्प शूटर्स की शिनाख्त की है, जिसमें से एक सौरव महाकाल का संबंध गवली गैंग से बताया जा रहा है।

Sidhu Moose Wala shot dead, Sidhu Moose Wala shot, Sidhu Moose Wala
पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला। (Photo Credit – Twitter/@isidhumoosewala)

लोकप्रिय पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में पुलिस ने जांच तेज कर दी है। अब इस केस में पुलिस ने एक और शार्प शूटर केशव और उसके साथी चेतन को बठिंडा से गिरफ्तार किया है, बताया जा रहा है कि केशव को रेकी करने वाले केकड़ा के साथ देखा गया था। केशव पर हत्या मामले में हथियार सप्लाई करने का आरोप है। बता दें कि, एक दिन पहले ही शार्प शूटर सौरव महाकाल को भी पुणे से पकड़ा गया था। वहीं, पंजाब पुलिस ने दावा किया था कि यदि सीबीआई ने उनकी मांग मान ली होती तो मूसेवाला हत्याकांड रोका जा सकता था।

पंजाब पुलिस मूसेवाला हत्याकांड के बाद लगातार अन्य राज्य पुलिस के साथ मिलकर हत्यारों की धरपकड़ कर रही है। इसी बीच उसने एक दावा किया है कि उसने 29 मई को हुए हत्याकांड से दस दिन पहले ही सीबीआई के सामने एक मांग रखी थी। पंजाब पुलिस के मुताबिक, अगर सीबीआई ने उसकी मानी होती तो सिद्धू मूसेवाला जिंदा होते।

पंजाब पुलिस ने बयान जारी कर कहा है कि उन्होंने 19 मई को दो पुराने केसों के मद्देनजर कनाडा स्थित गैंगस्टर गोल्डी बराड़ के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने की मांग की थी। पुलिस का कहना है कि यदि समय से सीबीआई यह काम करती तो पंजाब पुलिस सरकार के साथ मिलकर बराड़ पर कार्रवाई के लिए मदद मांगती। लेकिन केंद्रीय एजेंसी ने इस संबंध में कोई एक्शन नहीं लिया।

पंजाब पुलिस का मानना है कि यदि मांग के एक-दो दिन बाद गोल्डी बराड़ के खिलाफ नोटिस जारी हो जाता तो इसमें सीबीआई को इंटरपोल से भी मदद मिल जाती। फिर उसे एजेंसी की मदद से आपराधिक मामलों के चलते भारत लाने की प्रक्रिया पर काम शुरू हो जाता। ज्ञात हो कि, सिद्धू मूसेवाला की हत्या में मास्टरमाइंड होने का आरोप गैंगस्टर गोल्डी बराड़ पर ही है। पुलिस ने यह भी बताया कि उन्होंने बीते 5 मई को एक अन्य गैंगस्टर हरविंदर सिंह रिंडा के खिलाफ भी रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने की मांग की थी।

हालांकि, एक बार फिर से पंजाब पुलिस ने केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने की मांग रखी है। पंजाब पुलिस की ओर से गोल्डी बराड़ के खिलाफ जिन दो मामलों पर रेड कॉर्नर जारी करने की मांग की थी, उनमें से एक फरीदकोट के थाना सिटी में 12 नवंबर 2020 को जानलेवा हमले और आर्म्स एक्ट का मामला था। जबकि, दूसरा मामला 18 फरवरी 2021 को हत्या और आर्म्स एक्ट से जुड़ा था।

इसके अलावा, मूसेवाला हत्याकांड में बुधवार (8 जून) को एक और कामयाबी हाथ लगी, जिसमें एक शार्प शूटर सौरव महाकाल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। शार्प शूटर सौरव को मुंबई पुलिस ने पुणे से गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक, सौरव एक अन्य शार्प शूटर संतोष जाधव के संपर्क में था। बता दें कि संतोष जाधव अंडरवर्ल्ड डॉन अरुण गवली गैंग का करीबी माना जाता है।

पढें जुर्म (Crimehindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X