आर्यन को कम से कम 3 और रातें आर्थर रोड जेल में काटनी होंगी, सेशन कोर्ट में सोमवार से पहले सुनवाई के आसार नहीं

ड्रग्स केस में गिरफ्तार शाहरूख खान के बेटे आर्यन को अभी और रातें जेल में काटनी होगी। शुक्रवार को उनकी जमानत याचिका खारिज हो गई और कोर्ट में छुट्टी के कारण सोमवार से पहले उनकी जमानत याचिका पर सुनवाई संभव नहीं है।

ndc mumbai raid, aryan khan, shahrukh khan
एनसीबी की गिरफ्त में आर्यन खान (फोटो- पीटीआई)

मुम्बई क्रूज ड्रग्स केस में शाहरूख खान के बेटे आर्यन को कम से कम तीन और रातें जेल में काटनी पड़ेगी। शुक्रवार को भी आर्यन को जमानत नहीं मिली थी। जिसके बाद उन्हें जेल भेज दिया गया था।

आर्यन अब इस वीकेंड भी जेल भी ही गुजारेंगे क्योंकि सेशन कोर्ट में सोमवार से पहले इस मामले की सुनवाई के आसार नहीं हैं। मुंबई की एक अदालत ने शुक्रवार को आर्यन की जमानत याचिका खारिज कर दी थी। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने रिमांड की मांग की थी, जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया था।

अदालत ने दो अन्य आरोपियों अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धमेचट की याचिकाओं को भी खारिज कर दिया। इन तीनों को अब राहत के लिए सत्र न्यायालय का दरवाजा खटखटाना होगा। कोर्ट ने इनकी जमानत याचिका को खारिज करते हुए न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

जमानत के खिलाफ दलील देते हुए एनसीबी ने कहा कि आर्यन खान को रिहा करने से मामले को नुकसान हो सकता है। एजेंसी ने दावा किया कि वह सबूतों के साथ छेड़छाड़ कर सकता है और गवाहों को प्रभावित कर सकता है। इसने यह भी जोर दिया कि आर्यन खान और अन्य आरोपी इसका ‘नियमित सेवन’ करते थे।

आर्यन की ओर से पेश हुए वकील सतीश मानेशिंदे ने इसका विरोध किया। उन्होंने बहस के दौरान कहा कि सिर्फ इसलिए कि व्यक्ति संपन्न परिवार से है, यह नहीं कहा जा सकता है कि सबूतों के साथ छेड़छाड़ की जाएगी।

इस मामले में जमानत के लिए आर्यन खान को सेशन कोर्ट में अपील करना होगा, लेकिन शनिवार और रविवार को कोर्ट में छुट्टी होने के कारण जमानत याचिका पर सुनवाई सोमवार को ही होने की संभावना है। मिली जानकारी के अनुसार वकील मानशिंदे जमानत याचिका लेकर शाम में सेंशन कोर्ट पहुंचे थे, लेकिन इसे लेकर कोई ताजा अपडेट नहीं आई है। यही कारण है कि आर्यन को अब तीन दिन के लिए कम से कम ऑर्थर जेल में रहना होगा।

अगर सेशन कोर्ट में शुक्रवार को बेल की अर्जी दाखिल नहीं हो पाई होगी तो, सोमवार को कोर्ट खुलने पर सबसे पहले वकील को अर्जी दाखिल करनी पड़ेगी और फिर मामले की सुनवाई के लिए तारीख मिलेगी। इस तरह से ऐसी उम्मीद है कि आर्यन को कहीं और ज्यादा दिन ना जेल में रहना पड़ जाए।

पढें जुर्म समाचार (Crimehindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट