ताज़ा खबर
 

रेप के बाद कत्ल के नए-नए तरीके इस्तेमाल करता था यह सीरियल किलर, भाई ने भी प्रभावित होकर दिया पूरा साथ

केनेथ अपने चचेरे भाई को महिलाओं के साथ बनाए रिलेशनशिप के बारे में भी बताता था। इसके बाद...

कत्ल करने के लिए य दोनों जहरीले लैथल इंजेक्शन से लेकर बिजली के झटके और कार्बन मोनोऑक्साइड पॉइजन जैसे जानलेवा तरीके शामिल थे।(फोटो सोर्स- यूट्यूब)

इतिहास में ऐसी कई सीरियल किलिंग की घटनाएं हुई हैं जिनके बारे में जानकर आज भी लोग सिहर जाते हैं। आज हम आपको ऐसे ही सीरियल किलर के बारे में बता रहे हैं जिसने हैवानियत की सारी हदें पार कर दी थी। हम बात कर रहे हैं कुख्यात सीरियल किलर केनेथ एलेसियो बिएनची की। केनेथ एक ऐसा सीरियल किलर था जिसने करीब 12 महिलाओं को तड़पा-तड़पा कर मार डाला। इस सीरियल किलर की हैवानियत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यह कत्ल करने के लिए नए-नए तरीके ढूंढता था। पहले महिलाओं का रेप करता था बाद में उन्हें मौत के घाट उतार देता था।

केनेथ एलेसियो बिएनची का जन्म साल 22 मई, 1951 को न्यूयॉर्क के रोचेस्टर शहर में हुआ था। केनेथ की मां पेशे से वेश्या थी, जिसने उसे जन्म देने के बाद ही छोड़ दिया था। बाद में रोचेस्टर के एक दंपत्ति निकोलस बिएनची और उनकी पत्नी ने गोद लिया था। केनेथ बचपन से काफी गुस्सैल मिजाज का व्यक्ति था। इस बात से केनेथ का परिवार काफी परेशान रहता था।

केनेथ ने हाई स्कूल के बाद कॉलेज में एडमिशन लिया लेकिन पहले ही सेमेस्टर में पढ़ाई छोड़ दी। बाद में केनेथ ने हाई स्कूल में साथ पढ़ने वाली गर्लफ्रेंड से शादी कर ली थी। केनेथ ने पढ़ाई छोड़ने के बाद कई छोटी- मोटे काम किए जिसमें एक ज्वैलरी शॉप के सिक्युरिटी गार्ड की नौकरी भी शामिल है।इस नौकरी के दौरान केनेथ ने शॉप में चोरी करता था और उस पैसे लड़कियों को लुभाने, अपने पहनावे और वेश्याओं पर पानी की तरह बहाता था।

साल 1977 में केनेथ अपने चचेरे भाई एंजलो बूनो के साथ लॉस एंजिलिस में रहने लगा। जहां केनेथ की एक्सपेंसिव चीजों, पकड़ो और लाइफस्टाइल को देखकर उसका भाई काफी प्रभावित हुआ। इसके अलावा केनेथ उसे अपने और महिलाओं के साथ रिलेशनशिप के बारे में भी बताता था। उसी वर्ष यानी 1977 से ही केनेथ ने अपने भाई के साथ मिलकर महिलाओं को अपना शिकार बनाना शुरू कर दिया। दोनों महिलाओं के साथ रेप करने के बाद उन्हें मारने के अलग-अलग तरीके खोजते थे। इनमें जहरीले लैथल इंजेक्शन से लेकर बिजली के झटके और कार्बन मोनोऑक्साइड पॉइजन जैसे जानलेवा तरीके शामिल थे।

इन दोनों मिलकर 1979 तक 12 महिलाओं को अपना शिकार बनाया था और इसी साल पुलिस के हत्थे भी चढ़ गए थे। ये दोनों आज भी ‘द हीलसाइड स्ट्रेंजलर’ सीरियल किलर के नाम से कुख्यात हैं। फिलहाल केनेथ कैलिफोर्निया की और एंजलो बूनो वॉशिंगटन की जेल में उम्र कैद की सजा काट रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App