ताज़ा खबर
 

पकड़ा गया सीरियल किलर: याद नहीं कितनों को मारा, अब तक 30 कत्‍ल कबूले

हर कल्त के बाद आदेश खामरा के हिस्से में महज पच्चीस से तीस हजार रुपए आते थे। इन हत्याओं में तो उसने एक की हत्या 25 हजार रुपए की सुपारी लेकर कर दी थी।

Author January 24, 2019 11:08 AM
संकेतात्मक तस्वीर

मध्य प्रदेश पुलिस ने खतरनाक सीरियल किलर आदेश खामरा को गिरफ्तार किया है। कड़ी पूछताछ में उसने कई चौंकाने वाले खुलासे हैं। खबर के मुताबिक खामरा को याद ही नहीं है कि उसने अबतक कितने लोगों को मौत के घाट उतारा है। पूछताछ में उसके खुलासे पुलिस को हैरान कर रहे हैं। दैनिक भास्कर की खबर के मुताबिक सीरियल किलर ट्रक ड्राइवर और क्नीनर्स को निशाना बनाता था। हालांकि बिलखिरिया पुलिस उससे अबतक 30 हत्याओं का खुलासा करा चुकी है। इनमें से 22 ऐसी वारदातें हैं जिन्हें पुलिस कभी सुलझा ही नहीं पाई। जानकारी के मुताबिक हर कल्त के बाद आदेश खामरा के हिस्से में महज पच्चीस से तीस हजार रुपए आते थे। इन हत्याओं में तो उसने एक की हत्या 25 हजार रुपए की सुपारी लेकर कर दी थी। बीते शनिवार को कड़ी पूछताछ में उसने 16 और हत्याएं कबूल की हैं। इनमें से आठ मामलों में वह जेल भी जा चुका है।

पूछताछ में हत्यारे ने होशंगाबाद के शाहपुर गांव के जगदीश कीर की हत्या की बात भी स्वीकार की है। उसने बताया कि जगदीश के पिता और मां का शव उन्हीं के खेत में लगे आम के पेड़ पर लटका मिला था। इस मामले में 21 अगस्त, 2013 को अज्ञात हमलावर के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। जांच के दौरान पुलिस आरोपी को नहीं पकड़ पाई और मामला लटका रह गया। तब जगदीश ने इस मामले में कुछ लोगों पर माता-पिता की हत्या का आरोप लगाया था। आदेश का दावा है कि जिन लोगों पर उसने हत्या का आरोप लगाया उन्हीं ने उसे जगदीश की सुपारी दी।

सीरियल किलर ने बताया कि उसने जगदीश के हत्या के बदले में 25 हजार रुपए लिए। इसके साथ ही बेटे की शादी करवाने का वादा भी लिया गया था। किलर के मुताबिक वह जगदीश को पहले से जानता था। 30 अप्रैल, 2015 की शाम वह जगदीश को जंगल में शराब पिलाने ले गया। उसने शराब में नींद की गोलियां मिला दी थीं। जगदीश शराब पीते ही बेहोश हो गया। बेहोशी की हालत में उसने जगदीश के रेलवे ट्रेक पर लिटा दिया और थोड़ी देर तेज रफ्तार से आई ट्रेन ने उसके शरीर के टुकड़े-टुकड़े कर दिए। बाद में पुलिस ने केस साधारण हादसा मानते हुए केस बंद कर दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X