अमेठी में अनशन पर बैठे साधु संत, सगरा आश्रम की सेवादार की हत्या के दूसरे दिन भी नहीं हो पाया अंतिम संस्कार

आश्रम के पीठाधीश्वर मौनी महाराज के नेतृत्व में शव को आश्रम में रख साधु संत अनशन पर बैठे हुए हैं।

Mumbai, Mumbai Police, FIR against 2 officers, BJP leader wife, Fake docs for citizenship
प्रतीकात्मक फोटो-एक्सप्रेस

अमेठी जिले के सगरा आश्रम बाबूगंज की सहायिका मीरा देवी के शव का मंगलवार को दूसरे दिन भी अंतिम संस्कार नहीं हो सका। आश्रम के पीठाधीश्वर मौनी महाराज के नेतृत्व में शव को आश्रम में रख साधु संत अनशन पर बैठे हुए हैं। स्वामी मौनी महाराज ने कहा कि जब तक नामजद पांच आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होती है तब तक मंदिर के कपाट बंद रहेंगे, पूजा अर्चना भी नहीं होगी और शव का अंतिम संस्कार नहीं किया जायेगा। उन्होंने दावा किया कि साधु संतों का अनशन जारी रहेगा और साधु संत अन्न जल भी ग्रहण नहीं करेंगे।

अंतिम संस्कार न किये जाने के संबंध में पूछे जाने पर अमेठी के पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह ने कहा कि विवेचना चल रही है पुलिस के विशेष ऑपरेशन ग्रुप सहित पुलिस की चार टीमें गिरफ्तारी के लिए लगायी गयी हैं और शीघ्र आरोपी पकड़ लिए जायेगे। उन्होंने कहा कि मौनी महराज से भी वार्ता की जा रही है और शीघ्र हल निकलने की उम्मीद है।

गौरतलब है कि अमेठी जिले के गौरीगंज थाना क्षेत्र के सगरा आश्रम (बाबूगंज) के पीठाधीश्वर स्वामी मौनी महाराज के फलाहार आदि की प्रतिदिन व्यवस्था करने वाली उनके बुआ की भतीजी मीरा द्विवेदी (45) की 29 नवंबर को सुबह आश्रम से कुछ ही दूरी पर घर जाते समय धारदार हथियार से हमला कर हत्या कर दी गयी थी। मीरा गांव पूरे पंडित का पुरवा बाजगढ थाना गौरीगंज की रहने वाली थी।

घटना के बाद मीरा के पति भास्कर द्विवेदी ने हत्या का कारण जमीनी विवाद बताते हुए पांच लोगों के खिलाफ नामजद तहरीर दी थी। उधर तनाव को देखते हुए आश्रम के आस पास प्रशासन ने सुरक्षा बढ़ा दी है और भारी तादाद मे पुलिस ,पीएसी व खुफिया एजेंसियों के लोग तैनात किये गये हैं।

पढें जुर्म समाचार (Crimehindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।