बेटी से हुए रेप की जांच में पुलिस की लापरवाही से परेशान पिता ने IG ऑफिस के सामने की खुद को आग लगाने की कोशिश

भरतपुर के एसपी देवेंद्र विश्वनोई ने बताया कि युवक अपने बेटी और अन्य दो लोगों के साथ IG ऑफिस पहुंचा था। उसने अपने ऊपर ज्वलनशील पदार्थ डालकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। इससे पहले की वह कुछ कदम उठाता उसे हिरासत में ले लिया गया।

rajasthan, MLA, slapped, head constable, jansatta
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (express file photo)

राजस्थान के भरतपुर से एक पिता ने IG ऑफिस के बाद सुसाइड करने की कोशिश की। बेटी हुए रेप के एक मामले में पुलिस की जांच से पिता बहुत परेशान था इसलिए उसने आत्महत्या करने का प्रयास किया। हालांकि समय रहते कोई बड़ा हादसा होने से पुलिस ने रोक लिया और पीड़िता के पिता को फिलहाल हिरासत में ले लिया है। आरोप है कि पुलिस को बहुत समय पहले इस मामले में लिखित शिकायत दी गई थी, लेकिन पुलिस इस पर कोई कार्रवाई नहीं कर रही है।

एनडीटीवी के मुताबिक, भरतपुर के एसपी देवेंद्र विश्वनोई ने बताया कि युवक अपने बेटी और अन्य दो लोगों के साथ IG ऑफिस पहुंचा था। उसने अपने ऊपर ज्वलनशील पदार्थ डालकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। इससे पहले की वह कुछ कदम उठाता उसे हिरासत में ले लिया गया। पीड़ित ने पिछले साल जुलाई में कामन पुलिस स्टेशन में केस दर्ज कराया था। इसमें पुलिस को सूचना दी गई थी कि कुछ लोगों ने आरोपियों के साथ दुष्कर्म किया है।

एसपी ने बताया, ‘पुलिस को मिली शिकायत के अनुसार, 18 जुलाई 2020 को पीड़िता एक वकील के साथ चली गई थी और उसके परिजनों ने चंडीगढ़ से पीड़िता को पकड़ा था। पीड़िता को परिजन इसके बाद घर ले आए थे। छह दिन बाद, वकील और उसके तीन भाईयों के खिलाफ रेप का केस दर्ज करवाया गया था।’ पुलिस को जांच में पता चला कि वकील के भाई इस मामले में निर्दोष हैं, लेकिन व्यक्ति को इस पर विश्वास नहीं हो रहा था।

भाई पर बहन ने लगाया रेप का आरोप: पुलिस ने नाबालिग बहन से रेप करने के आरोप में 26 वर्षीय भाई के खिलाफ केस दर्ज किया है। आरोप है कि भाई ने रेप के बाद बहन को जान से मारने की भी धमकी दी थी। पीड़िता ने पुलिस को दी शिकायत में बताया है, उसका भाई पैरेंट्स की मौत के बाद उसे ले गया था और वह अकेले ही उसका पूरा ध्यान रखता था, इसलिए बार-बार रेप करने बाद भी वह चुप रही।

तीन महीने तक पीड़िता को मासिक धर्म नहीं होने के बाद उसकी भाभी चेकअप के लिए पीड़िता को अस्पताल लेकर गई। इसके बाद पीड़िता ने सब सच बताने का फैसला किया। शिकायत मिलने के तुरंत बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और उसके खिलाफ पोक्सो एक्ट में केस दर्ज किया गया है।

पढें जुर्म समाचार (Crimehindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट