ताज़ा खबर
 

गुजरात से रामलला के दर्शन करने अयोध्या आई थी, हुई बलात्‍कार की शिकार

महिला ने अपने साथ हुई दुष्कर्म की शिकायत जब पुलिस से की तो पुलिस ने इस मामले में तुरंत एक्शन लिया। आरोपी बस चालक जिग्नेश इस वारदात को अंजाम देने के बाद भागने की फिराक में था, लेकिन उसके फरार होने से पहले पुलिस ने उसे धऱ दबोचा।

Author May 1, 2018 3:52 PM
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फाइल फोटो)

इधर उत्तर प्रदेश के अयोध्या में अब एक महिला के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। यह महिला गुजरात से आई थी। दरअसल गुजरात से कई सारे सैलानी एक बस से यहां अयोध्या में रामलला के दर्शन के लिए आए थे। यह महिला भी इन सैलानियों के साथ ही आई थी। यह महिला सैलानियों के लिए खाना बनाने का काम करती थी। पीड़ित महिला के साथ रेप का आरोप बस के ही ड्राइवर पर लगा है। ड्राइवर का नाम जिग्नेश बतलाया जा रहा है। यह घटना अयोध्या कोतवाली क्षेत्र के एक धर्मशाला की है।

इस बारे में मिली जानकारी के मुताबिक सभी गुजरात से आए सभी टूरिस्ट इसी धर्मशाला में ठहरे हुए थे। रविवार (29 अप्रैल) की रात पानी मांगने के बहाने बस के ड्राइवर जिग्नेश ने महिला को अपने कमरे में बुलाया और फिर उसने महिला के साथ इस घिनौनी करतूत को अंजाम दिया। पीड़ित महिला ने घटना के तुरंत बाद बस चालक जिग्नेश के खिलाफ केस दर्ज कराया।
इस मामले में पुलिस का कहना है कि महिला खाना बनाने का काम करती है। रविवार की रात बस ड्राइवर भी उसी धर्मशाला में रुका हुआ था जिसमें सभी सैलानी और यह महिला रूकी हुई थी।

महिला ने अपने साथ हुई दुष्कर्म की शिकायत जब पुलिस से की तो पुलिस ने इस मामले में तुरंत एक्शन लिया। आरोपी बस चालक जिग्नेश इस वारदात को अंजाम देने के बाद भागने की फिराक में था, लेकिन उसके फरार होने से पहले पुलिस ने उसे धऱ दबोचा। इस मामले में आरोपी ड्राइवर खुद को बेकसूर बतला रहा है। फिलहाल पुलिस मामले की छानबीन करने में जुटी हुई है।

आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों से देश के अलग-अलग हिस्सों से महिलाओं और नाबालिग बच्चियों के साथ छेड़छाड़ और दुष्कर्म से जुड़ी घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं। बिहार के जहानाबाद में कुछ मनचलों द्वारा एक नाबालिग बच्ची से सरेआम गंदी हरकत करने का मामला भी इन दिनों सुर्खियों में है। कुछ दिनों पहले ही केंद्र सरकार ने ऐसी घटनाओं पर लगाम लगाने और दुष्कर्मियों पर शिकंजा कसने के लिए ‘पॉक्सो एक्ट’ एक्ट में बदलाव करते हुए 12 साल से कम की उम्र की बच्चियों से रेप करने वालों के खिलाफ फांसी की सजा का प्रावधान किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App