ताज़ा खबर
 

हनीप्रीत को देखकर दवा खाने में भी नखरे कर रहा था रेप का दोषी राम रहीम, अस्पताल ने दी मिलने की इजाजत

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम हनीप्रीत को देखने के बाद अस्पताल में दवाई खाने में आनाकानी कर रहा था। हनीप्रीत को 15 जून तक राम रहीम से मिलने की इजाजत मिल गई है। अब वह बिना किसी रोक-टोक के मिल सकती है।

हनीप्रीत को देखकर दवाई नहीं खा रहा था राम रहीम (Photo- Indian Express)

रेप के मामले में दोषी राम रहीम को सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने साल 2017 में 20 साल जेल की सजा सुनाई थी। अभी वह इसी मामले में जेल में बंद है। सुनारिया जेल में बंद राम रहीम की तबीयत अचानक बिगड़ गई थी। जिसके बाद उसे रोहतक पीजीआई में ले जाया गया था। यहां उसके टेस्ट किए गए थे जिसके बाद उसे गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में रेफर कर दिया गया था।

अभी राम रहीम गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती है। राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत भी उससे मिलने पर अड़ी हुई थी। सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए हनीप्रीत को मिलने की इजाजत नहीं दी जा रही थी। सोमवार को उसकी गुजारिश को स्वीकार करते हुए राम रहीम से मिलने की इजाजत दी गई। सोमवार को हनीप्रीत को देखकर राम रहीम काफी खुश हो गया। इंडिया टुडे में छपी एक खबर के मुताबिक, हनीप्रीत को देखने के बाद राम रहीम दवाई खाने में भी आनाकानी करने लगा था।

राम रहीम ने हनीप्रीत से लंबी बातचीत भी की। हनीप्रीत के पहुंचने के बाद राम रहीम के टेस्ट भी करवाने का फैसला किया गया था, लेकिन वह टेस्ट करवाने से भी बच रहा था। शायद वह हनीप्रीत के साथ बैठकर ज्यादा से ज्यादा बात करना चाहता था। अब खबर है कि हनीप्रीत को 15 जून तक राम रहीम से मिलने की इजाजत दे दी गई है। अस्पताल प्रबंधन ने हनीप्रीत का अटेंडेंट कार्ड बनवा दिया है।

अटेंडेंट कार्ड मिलने का मतलब है कि अब हनीप्रीत बिना किसी रोक-टोक के राम रहीम से मिल सकती है। बता दें, हनीप्रीत का असली नाम प्रियंका तनेजा है। हनीप्रीत को राम रहीम अपनी बेटी कहता है। 25 अगस्त 2017 को पंचकुला कोर्ट ने राम रहीम को दो महिलाओं से रेप के आरोप में दोषी ठहराया था, जिसमें उसे 20 साल की जेल हुई थी। इसके बाद शहर में काफी आगजनी हुई थी। इसमें 41 लोगों की जान चली गई थी और हिंसा को भड़काने के आरोप में हनीप्रीत के खिलाफ केस दर्ज किया गया था।

Next Stories
1 UPSC में चौथा स्थान प्राप्त करने वाली अर्तिका शुक्ला ने IAS बनने के लिए छोड़ दी थी डॉक्टरी की पढ़ाई, सिर्फ एक साल में हासिल किया मुकाम
2 ‘मेहनत के साथ सही स्ट्रेटेजी भी है बहुत जरूरी’, 22 साल की उम्र में IAS बनने वाली अनन्या ने शेयर किया सफलता का मूल-मंत्र
3 मेदांता में हनीप्रीत से मिलने की ज़िद करता रहा रेप का दोषी राम रहीम, 15 जून तक के लिए इजाज़त भी मिल गई
यह पढ़ा क्या?
X