एक साल से 4 शिक्षक 10वीं की छात्रा से कर रहे थे रेप, प्रिंसिपल पर भी आरोप, कहा था- मेरा भाई मंत्री है, कुछ बताने की हिम्मत न करना

प्रिंसिपल जितेंद्र ने धमकी दी कि अगर तुमने इस बारे में अपने घर में बताया तो मेरा भाई मंत्री है। मैं तुम्हें और तुम्हारे परिवार को उठाकर जान से मरवा दूंगा। पीड़िता ने इस डर से घर पर नहीं बताया।

india rape news, gang rape
प्रतीकात्मक तस्वीर

राजस्थान के अलवर में सरकारी स्कूल की एक छात्रा ने अपने स्कूल स्टाफ पर गैंगरेप का आरोप लगाया है। इसको लेकर छात्रा ने उनके खिलाफ मामला दर्ज कराया है। बता दें कि मामला अलवर के रायसराना स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय का है। पीड़ित 10वीं की छात्रा है। रिपोर्ट में बताया कि स्कूल के अध्यापक उसके साथ पिछले एक साल से गलत काम कर रहे थे।

दी गई थी जान से मारने की धमकी: बता दें कि लड़की का पिता ट्रक ड्राइवर है। वो कई दिनों तक घर से बाहर रहता है। उसकी पत्नी मूक-बधिर है। वहीं कई दिनों बाद जब वह घर लौटा तो देखा कि उसकी बेटी स्कूल नहीं जा रही है। वजह पूछने पर लड़की रोने लगी और बताया कि स्कूल का प्रिंसिपल और शिक्षक एक साल से उसके साथ गलत काम कर रहे हैं। मना करने पर उसे जान से मारने की धमकी दी गई।

दिया था लालच: पीड़िता ने आप बीती बताते हुए कहा, “मुझे मुफ्त में ड्रेस, किताब कॉपी देने का लालच देकर स्कूल की अध्यापिका मनीषा यादव और अनीता कुमारी ने पास में रहने वाले शिक्षक सुरेश मीणा के घर ले गई। वहां प्रिंसिपल जितेंद्र कुमार, अध्यापक राजकुमार और प्रमोद कुमार पहले से ही मौजूद थे। ये लोग शराब पी रहे थे।”

कहा- मेरा भाई मंत्री है: पीड़िता ने कहा कि मनीषा यादव ने मुझे कपड़े उतारने के लिए कहा। उसके बाद चारों अध्यापकों ने मिलकर मेरे साथ गलत काम किया। इस दौरान दोनों अध्यापिकाओं ने वीडियो बनाया और धमकी भी दी कि विरोध किया तो वीडियो वायरल कर परीक्षा में फेल कर देंगे। छात्रा ने कहा कि प्रिंसिपल ने मुझे धमकी दी कि अगर घर में बताया तो तुम्हें और तुम्हारे परिवार को मरवा दूंगा। मेरा भाई मंत्री है।

छात्रा ने बताया कि दिवाली के बाद मेरी हिम्मत नहीं हुई स्कूल जाने की। वहीं प्रिंसिपल जितेंद्र ने कहा कि मुझे इसकी जानकारी नहीं है, मुझे फंसाया जा रहा है। बता दें कि इस मामले में मांढ़ण थाने में आरोपी प्रिंसिपल सहित शिक्षकों के खिलाफ गैंगरेप और पोक्सो एक्ट के तहत मामले दर्ज हुआ है।

पढें जुर्म समाचार (Crimehindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।