ताज़ा खबर
 

‘मैं सरकार हूं’, विधायक के रौब दिखाने पर ADC ने डांट कर कहा- बाहर निकलिए

विधायक कहते हैं कि मेरी आवाज आप पहले सुनिए। इसके बाद एडीसी अपनी कुर्सी से उठ जाते हैं और कहते हैं कि जाइए जाकर बाहर आवाज ऊंची करिए...

crime, crime newsIAS अफसर ने उन्हें बाहर जाने के लिए कह दिया था। फोटो सोर्स – वीडियो स्क्रीनशॉट

विधायक ने जब एक आईएएस के सामने रौब झाड़ने की कोशिश की तब इस आईएएस ने उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया। विधायक की बोलती बंद करने वाले इस निडर आईएएस का नाम केशव हिंगोनिया है। साल 2018 में केशव हिंगोनिया फरीदकोट में बतौर एडीसी तैनात थे। मार्च के महीने में मिनी सचिवालय में केशव हिंगोनिया के कार्यालय में कोटकपूरा से आम आदमी पार्टी के तत्कालीन विधायक कुलतार सिंह संधवां पहुंचे थे। एडीसी के दफ्तर के अंदर विधायक और सरकारी अफसर के बीच काफी कहासुनी हो गई थी। इस बहस का वीडियो भी सोशल मीडिया में सामने आया था। वीडियो में नजर आ रहा था कि विधायक कुलतार सिंह संधवां अपने समर्थकों के साथ मौजूद थे और उनके सामने एडीसी केशव हिंगोनिया बैठे हुए थे।

वीडियो में नजर आ रहा है कि आप विधायक एडीसी से पूछते हैं कि ‘क्या मैं सरकार नहीं हूं, इसपर एडीसी कहते हैं कि किसने कहा आपको कि आप सरकार हैं। इसपर विधायक कहते हैं कि मैं सरकार हूं। इसपर केशव हिंगोलिया कहते हैं कि आप सरकार नहीं विधायक हैं। जिसके जवाब में आप विधायक कहते हैं कि मैं जनता द्वारा चुना गया प्रतिनिधि हूं। सीएम भी एक विधायक हैं। एडीसी कहते हैं कि आप सिर्फ सरकार के प्रतिनिधि हैं। इसपर विधायक कहते हैं कि मिस्टर एडीसी, मेरी बात सुनिए…

इसपर एडीसी उन्हें चेताते हुए कहते हैं कि आप आवाज ऊंची मत करिए। विधायक कहते हैं कि मेरी आवाज आप पहले सुनिए। इसके बाद एडीसी अपनी कुर्सी से उठ जाते हैं और कहते हैं कि जाइए जाकर बाहर आवाज ऊंची करिए…इसपर विधायक और एडीसी के बीच बहस और तीखी हो जाती है। विधायक कहते हैं कि मुझे बाहर जाने के लिए कहने वाले आप कोई नहीं है।

इसपर एडीसी कहते हैं कि मैं आपको ढंग से कह रहा हूं कि बाहर जाइए। विधायक जवाब देते हैं कि आप बाहर जाइए। इसके बाद नाराज एडीसी अपने चैंबर से निकल जाते हैं और पिर आप समर्थक एडीसे के खिलाफ नारे लगाने लगते हैं।’

बता दें कि कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया था कि जिस समय विधायक डीसी दफ्तर पहुंचे थे उस वक्त एडीसी मिनी हाल में अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। विधायक का संदेश मिलने के बाद एडीसी बैठक बीच में छोड़कर दफ्तर में आ गए।

विधायक ने उनसे खड़े होकर मांगपत्र लेने को कहा तो उन्होंने सभी को अदालत परिसर में बुला लिया था। वहां पर विधायक के मनरेगा स्कीम में कथित गड़बड़ी की जांच की मांग को लेकर दोनों में बहस शुरू हो गई थी।

Next Stories
1 अलबेनियन माफिया: लड़कियों को देह व्यापार में धकेलने के लिए हैं कुख्यात, नौजवानों के नसों में ड्रग्स घोलने वाले गिरोह की कहानी
2 ‘अभी तुम नये-नये आए हो, विधायक से बात करने का तरीका नहीं आता…’, IAS को चैंबर में हड़काते भाजपा MLA का वीडियो हुआ था वायरल..
3 SDM को धमकाते हुए कहा- मेरी ताकत का अहसास नहीं, BJP विधायक को महिला अफसर ने दिया था जवाब…
IPL Live Streaming
X