ताज़ा खबर
 

पुजारी पर होमोसेक्सुअल होने का आरोप, भीड़ ने जमकर पीटा और बाल भी काटे

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में यह दिख रहा है कि पीड़ित बार-बार पिटाई कर रहे लोगों से छोड़ देने की बात कह रहा है, लेकिन भीड़ ने उसकी एक न सुनी।

तस्वीर का प्रयोग प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। (फाइल फोटो)

कर्नाटक के मंगलुरु में हिंसक भीड़ द्वारा होमोसेक्सुअल होने के संदेह में एक आदमी की जमकर पिटाई की गई। वहां मौजूद लोगों ने इस पूरी घटना का वीडियो बना लिया और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल कर दिया। इस पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की गई है। पीड़ित की पहचान मंगलुरु के एक पुजारी के रूप में की गई है। पीड़ित की भीड़ द्वारा बेरहमी से पिटाई की गई है। इस घटना बाद भीड़ कानून को अपने हाथ में लेने पर विवाद शुरू हो गया है। कथित तौर पर जिस ‘होमोसेक्सुअल’ का आरोप लगा पिटाई की गई, सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अब यह कोई अपराध नहीं है।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में यह दिख रहा है कि पीड़ित बार-बार पिटाई कर रहे लोगों से छोड़ देने की बात कह रहा है, लेकिन भीड़ ने उसकी एक न सुनी। वे बेरहमी से पिटाई करते रहे। पीड़ित ने जब अपने सिर को बचाने की कोशिश की, तो भीड़ द्वारा उसे लात-घूसों से पीटा गया। व्यस्त सड़क पर उसके बाल खिंचे गए। मुक्कों से मारा गया और आने-जाने वाले तमाशबीन खड़े रहे। यहां तक कि किसी ने इसकी सूचना पुलिस को देने की भी जरूरत नहीं समझी। लोग पीड़ित को बचाने की जगह वीडियो बनाने में मशगूल दिखे। इस पिटाई करने वाली भीड़ में कुछ महिलाएं भी शामिल थी, जिन्होंने कथित पुजारी के सिर के बाल भी हंसिया से काट दिए। इस मामले की जानकारी मिलने पर पुलिस ने एक मामला दर्ज किया है।

वहीं, महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले के शिरडी में एक आठ साल की लड़की के साथ कथित तौर पर दुष्कर्म के मामले में एक 14 साल के किशोर को हिरासत में लिया गया है। पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी। शिरडी के थानाध्यक्ष अनिल कटाके ने बताया कि यह किशोर पीड़िता को यहां से तीन किलोमीटर दूर निमगांव नाम के गांव में एक सुनसान जगह ले गया और वहां रविवार शाम को उसके साथ कथित तौर पर दुष्कर्म किया।

बाद में लड़की ने यह बात अपने माता पिता को बताई और फिर उन्होंने पुलिस को इसकी जानकारी दी। इस बच्ची और किशोर का अहमदनगर सिविल अस्पताल में चिकित्सीय परीक्षण किया गया और इसके बाद आरोपी को हिरासत में ले लिया गया। उसे निगरानी गृह में रखा गया है। पुलिस ने किशोर के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 376 (दुष्कर्म) और यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण अधिनियम (पोक्सो) की कुछ धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। (भाषा इनपुट के साथ)

Next Stories
1 रिवॉल्वर, माउजर, दुनाली चलाती है, मां की चिता पर बदला लेने की कसम खाकर बन गई गैंगस्टर
2 गोदते-गोदते टूट गया चाकू, 59 बार पत्नी पर हमला करने वाले को मिली यह सजा
3 पूर्वांचल का यह गैंगस्टर है दाऊद इब्राहिम का गुरू, शिष्य ही बन गया जान का दुश्मन
यह पढ़ा क्या?
X