ताज़ा खबर
 

अवैध खनन के आरोपी को यूपी पुलिस ने गोलियों से भूना, सपा MP बोले- फर्जी है एनकाउंटर, कराई जाए CBI जांच

सपा सांसद ने पुलिस के बयान को खारिज कर दिया और कहा कि जो मारा गया वो अपराधी नहीं था। उन्होंने कहा, 'पुष्पेंद्र का ट्रक जब्त कर लिया गया था और वह एसएचओ से उसे छोड़ने की बात कर रहा था, इसी दौरान बहस हुई और उसे मार दिया गया।

Author झांसी | Published on: October 7, 2019 2:25 PM
उत्तर प्रदेश पुलिस (फोटो- इंडियन एक्सप्रेस)

उत्तर प्रदेश के झांसी में पुलिस ने अवैध खनन (Illegal Mining) के आरोपी एक 25 वर्षीय शख्स को एक कथित एनकाउंटर में गोलियों से भून दिया। रविवार (6 अक्टूबर) को हुए इस केस को समाजवादी पार्टी के राज्यसभा सांसद चंद्रपाल सिंह यादव ने फर्जी एनकाउंटर (Fake Encounter) करार दिया। उन्होंने इसे मर्डर बताया और एफआईआर दर्ज कर सीबीआई जांच (CBO Probe) की मांग की है।

‘पिछले हफ्ते जब्त हुआ था ट्रक’: पुलिस ने दावा किया कि खनन आरोपी पुष्पेंद्र यादव एनकाउंटर में मारा गया है, इसी दौरान उसका भाई रविंद्र यादव और साथी नितिन भाग निकला। झांसी एसएसपी ओमप्रकाश सिंह ने कहा, ’29 सितंबर को मोठ पुलिस थाने के एसएचओ धर्मेंद्र सिंह चौहान ने अवैध खनन के मामले में पुष्पेंद्र यादव का एक ट्रक जब्त किया था। शनिवार (5 अक्टूबर) को जब वो दो दिनों की छुट्टी के बाद कानपुर से लौट रहे थे तो उन्हें पुष्पेंद्र का कॉल आया। उसने ट्रक जब्त किए जाने के संदर्भ में मिलने के लिए कहा। देर शाम करीब सवा 9 बजे चौहान उससे मिलने के लिए कानपुर-झांसी हाइवे पर बमरौली पहुंचे।’

SHO को बुलाकर मारी गोलीः उन्होंने बताया, ‘जैसे ही चौहान ने गाड़ी का शीशा उतारा, पुष्पेंद्र ने उन पर गोली चला दी। गोली उनके गाल को छू गई। इसके बाद उन्होंने हमलावर को पैदल दौड़कर पकड़ने की कोशिश की लेकिन वो भाग निकला। इसके बाद एक पुलिस टीम उनकी मदद के लिए पहुंची। घटनास्थल पर हमें हमलावर की बाइक मिली। हमलावर चौहान की कार लेकर भागे थे। पुष्पेंद्र के खिलाफ पुलिस पर हमला करने का मामला दर्ज किया गया। प्रथम दृष्ट्या यह हरकत बदले की भावना से की गई लगती है।’

इन धाराओं में दर्ज हुआ केसः पुलिस ने इस मामले में पुष्पेंद्र, रविंद्र और उनके साथी नितिन के खिलाफ आईपीसी की धाराओं 307, 394, 397, 398 और 353 के तहत मामला दर्ज कर लिया था। देर रात करीब ढाई बजे गुरसराय रोड से चोरी की गई कार बरामद की गई। यह जगह गोली चलाने वाली जगह से 40 किमी दूर है। एसएसपी ने कहा, ‘करीब ढाई बजे जब चोरी की कार बैरिकेड्स की तरफ आती दिखी तो हमने उसे पकड़ने की कोशिश की। इस दौरान उसने गोली चला दी। हमने भी पलटवार किया, जिसमें पुष्पेंद्र घायल हो गया, वहीं बाकी दो भाग निकले। उसकी इलाज के दौरान अस्पताल में मौत हो गई, जबकि बाकी दो की तलाश जारी है।’

National Hindi News, 7 October 2019 Top Headlines LIVE Updates: देश-दुनिया की तमाम अहम खबरों के लिए क्लिक करें

‘शनिवार तक उसके खिलाफ कोई FIR नहीं थी’: सपा सांसद ने पुलिस के बयान को खारिज कर दिया और कहा कि जो मारा गया वो अपराधी नहीं था। उन्होंने कहा, ‘पुष्पेंद्र का ट्रक जब्त कर लिया गया था और वह एसएचओ से उसे छोड़ने की बात कर रहा था, इसी दौरान बहस हुई और उसे मार दिया गया। मृतक अपराधी नहीं था और शनिवार तक उसके खिलाफ कोई एफआईआर भी दर्ज नहीं थी।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Agra: रेप के बाद 16 साल की किशोरी ने यमुना में लगाई छलांग, घटना के बाद सील किया गया अनाथालय
2 11 साल की लड़की से 11 बार रेप कर मां से कहा- ‘इसकी उम्र संबंध बनाने के लायक हो गई है’, आरोपी को मिली कठोर सजा
3 Kerela: 4 साल की बच्ची ने खाना खाने से मना किया तो मां ने बेरहमी से पीटा, अस्पताल में तोड़ा दम