ताज़ा खबर
 

यूपी: SHOs पर आरोप- दीवाली पर 17 लाख की मिठाई मंगवाई, पैसे मांगने पर धमका रहे ; SSP ने कहा- मुझे भेजिए बिल

होटल मालिकों के मुताबिक इसके बाद कुछ पुलिस वाले अपने परिवार और दोस्तों के साथ लंच और डिनर के लिए उनके होटलों में आए लेकिन उन्होंने खाने का बिल तक नहीं दिया।

Author Published on: November 15, 2019 10:06 AM
पुलिस वाले 17 लाख की मिठाई डकार गए और होटल मालिकों का कहना है कि बिल भागने पर वो उन्हें डरा रहे हैं। प्रतीकात्मक तस्वीर।

यूपी के कई SHO ने इस दीवाली जमकर मुफ्त की मिठाइयां उड़ाई हैं। लाखों रुपए की मिठाइयां डकारने वाले इन SHOs पर कुल 17 लाख रुपए की मिठाइयां फ्री में खा जाने का आरोप लगा है। इतना ही नहीं आरोप यह भी है कि पैसा मांगने पर वर्दी वाले रेस्टुरेंट और होटल मालिकों को खाकी का धौंस दिखाकर डरा-धमका भी रहे हैं। मामला गाजियाबाद का है।

गाजियाबाद के Association of Food Operators, के अध्यक्ष अनिल कुमार गुप्ता ने इस मामले में अब एसएसपी से न्याय की गुहार लगाई है। बाकायदा एसएसपी को चिट्ठी लिखकर इस मामले की जानकारी दी गई है। एसएसपी को लिखी चिट्ठी में कहा गया है कि ‘दीवाली से ऐन पहले गाजियाबाद के सभी पुलिस थानों के स्टेशन हाउस ऑफिसरों ने रेस्टुरेंट और होटल के मालिकों के साथ एक बैठक की। इस बैठक में पुलिस अधिकारियों ने होटल मालिकों को हिदायत दी कि दिवाली के दौरान अवैध पार्किंग या अतिक्रमण होने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

इसके अगले ही दिन सभी रेस्टुरेंट मालिकों को एक-एक कर सभी पुलिस स्टेशनों से फोन आया और फोन के जरिए मिठाई के 100 डिब्बे तथा ड्राई फ्रूट्स के भी इतने ही पैकेट्स ऑर्डर किये गये।’ आपको बता दें कि गाजियाबाद में कुल 17 पुलिस थाने हैं। एसोसिएशन ऑफ फूड ऑपरेटर्स का आरोप है कि ऑर्डर पहुंचाने के बाद सभी थानों को बताया गया है कि उन्हें मिठाई और ड्राई फ्रूट्स के बदले में करीब 1-1 लाख रुपए के बिल का भुगतान करना होगा।

हालांकि शुरू में पुलिस अधिकारियों ने इस बिल के भुगतान की बात कही थी लेकिन बाद में वो अतिक्रमण पर कार्रवाई की धमकी देकर पैसे देने की बात से मुकर गए। होटल मालिकों के मुताबिक इसके बाद कुछ पुलिस वाले अपने परिवार और दोस्तों के साथ लंच और डिनर के लिए उनके होटलों में आए लेकिन उन्होंने खाने का बिल तक नहीं दिया।

अनिल कुमार गुप्ता के मुताबिक ‘यह पहला मौका नहीं है जब होटलों या रेस्टुरेंट मालिकों को परेशान किया गया है। उनके मुताबिक अक्सर पुलिस वाले उनके होटलों में खाना खाने के बाद पैसे नहीं देते या फिर सिर्फ आधी बिल का भुगतान ही करते हैं। बता दें कि गाजियाबाद के इस एसोसिएशन में 150 सदस्य हैं। एसोसिएशन की तरफ से एसएसपी को लिखा गया खत अब वायरल भी हो चुका है।

इस खत में एसोसिएशन की तरफ से यह भी बताया गया कि कई बार दमकल विभाग के अधिकारी भी रेस्टुरेंट या होटलों के लिए एनओसी ना देने की धमकी देकर फ्री में ही दावत उड़ाते हैं। इधऱ अब इस मामले में गाजियाबाद के एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने एक्शन लेने की बात की है। एसएसपी ने कहा है कि इस मामले में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों द्वारा जांच कराई जाएगी। एसएसपी ने कहा है कि उन्होंने सभी स्टेशन हाउस ऑफिसरों से बिल का भुगतान करने के लिए कहा है और उन्हें हिदायत भी दी गई है कि अगर उन्होंने बिल का भुगतान नहीं किया तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई भी की जाएगी।

एसएसपी ने कहा है कि ‘वेंडर्स सीधे उन्हें भी बिल भेज सकते हैं। इस बिल में पुलिस अधिकारी का नाम जरूर शामिल होना चाहिए ताकि उस अधिकारी को इस बिल के यथाशीघ्र भुगतान के बारे में कहा जा सके।’ इतना ही नहीं एसएसपी की तरफ से कहा गया है कि ‘आगे से इस तरह की प्रताड़ना के मामलों में फूड ऑनर्स सीधे उनके संपर्क कर शिकायत कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि मैंने इस बारे में एक नोटिस जारी किया है…मैं जल्दी ही एसोसिएशन के सदस्यों को बुला कर उनसे मिलूंगा और इस मामले में उनसे पुलिस अधिकारियों के खिलाफ सभी सबूत भी लूंगा।’ (और…CRIME NEWS)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Online ऑर्डर किया था खाना, कैंसल करने के लिए Toll-Free नंबर पर किया कॉल तो खाते से कट गए 4 लाख रुपए
2 Haryana: रिश्वत मांग रहा था बिजली विभाग का SDO, दिव्यांग ने देने से किया मना तो गिराकर पीटा; Video वायरल
3 गन पॉइंट पर बनाया Cab ड्राइवर को बंधक, App चालू रख 24 घंटे तक सवारियों को लूटते रहे; सामने आई ये सच्चाई
जस्‍ट नाउ
X