BJP विधायक पर कॉन्स्टेबल को जूते से पीटने और पेशाब पिलाने की कोशिश का लगा था आरोप, दर्ज हुआ था मुकदमा

पुलिस कॉन्स्टेबल ने उस वक्त आरोप लगाया था कि 'जब मैं वहां गया तब उनलोगों ने मुझे गालियां दीं और मेरी पिटाई की। उनलोगों ने मुझपर फायरिंग भी की थी जिसमें मैं बाल-बाल मच गया था।'

crime, crime newsMLA किशन लाल राजपूत। फोटो सोर्स- सोशल मीडिया

आज बात भारतीय जनता पार्टी के एक ऐसे विधायक की जिनपर कभी यूपी पुलिस के एक कॉन्स्टेबल को जूते से पीटने का आरोप लगा था। इतना ही नहीं आरोप यह भी था कि उन्होंने इस पुलिस वाले को जबरन मूत्र पीने के लिए कहा था। घटना साल 2019 की है। उस वक्त कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया था कि उत्तर प्रदेश के पीलीभात जिले के थाने में तैनात कॉन्स्टेबल मोहित गुर्जर ने राहुल नाम के एक शख्स से बाइक खरीदी थी। यह मोटरसाइकिल 50,000 रुपए में खरीदी गई थी। उस वक्त यह बात सामने आई थी कि राहुल के पास इस बाइक के वैध कागजात नहीं थे।

बताया जाता है कि जब गाड़ी के वैध कागजात कॉन्स्टेबल को नहीं मिले तब उस वक्त मोहित गुर्जर ने राहुल से अपने पैसे वापस मांगे थे। इसके बाद राहुल ने कॉन्स्टेबल मोहित गुर्जर को पीलीभीत स्थित मंडी समिति में बुलाया। आरोप है कि यहां राहुल के अलावा उसका चचेरा भाई ऋषभ और उसके कुछ अन्य साथी पहले से मौजूद थे। ऋषभ के बारे में बताया गया था कि वो पीलीभीत की ही बरखेड़ा विधानसभा सीट से विधायक किशन लाल राजपूत का भतीजा था।

पुलिस कॉन्स्टेबल ने उस वक्त आरोप लगाया था कि ‘जब मैं वहां गया तब उनलोगों ने मुझे गालियां दीं और मेरी पिटाई की। उनलोगों ने मुझपर फायरिंग भी की थी जिसमें मैं बाल-बाल मच गया था। उन लोगों ने मेरा पर्स और सोने का चेन भी छीन लिया था।’ इसके बाद वो दौड़ कर किसी तरह थाने पहुंचा था।

विधायक पर आरोप लगाते हुए कॉन्स्टेबल ने कहा था कि थाने में पहुंचने के बाद उसने शिकायत भी वहां मौजूद पुलिस अधिकारियों से की थी लेकिन किसी ने उसकी नहीं सुनी थी। आरोप लगाया गया था कि विधायक ने अपने समर्थकों के साथ मिलकर उसे जबरन पेशाब पीने को कहा और जूते से उसकी पिटाई भी की थी। इस मामले में बाद में मोहित ने अदालत का दरवाजा खटखटाया था, जिसके बाद विधायक और उनके समर्थकों के खिलाफ केस दर्ज किया गया था।

Next Stories
1 हाथ में पिस्टल लेकर सड़क पर दौड़ीं, फिल्मी अंदाज में डॉन को पकड़ने वाली जाबांज इंस्पेक्टर अरुणा राय की कहानी
2 गैंगस्टर को छुड़ाने आए अपराधियों से भिड़ गई थीं, वसुंधरा चौहान की बहादुरी का लोहा CM ने भी माना
3 सरकारी बाबुओं के बुरे बर्ताव को सहा, अपराजिता राय के गरीब लड़की से IPS बनने का सफर यूं हुआ पूरा
ये पढ़ा क्या?
X