ताज़ा खबर
 

Bihar Election 2020: पटना में BJP कार्यकर्ताओं ने पप्पू यादव की पार्टी के कार्यकर्ताओं को लाठी-डंडे से दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, देखें वीडियो

दर्शन के दौरान जाप के कार्यकर्ता बीजेपी के कार्यालय तक पहुंच गए थे और जैसे ही उन्होंने मुख्य दरवाजे पर आकर पीएम मोदी के खिलाफ नारे लगाए, बीजेपी कार्यकर्ता भड़क गए और फिर यह मारपीट शुरू हो गई।

bihar election 2020, biharजाप कार्यकर्ताओं को लाठी-डंडे से पीटा गया। फोटो सोर्स – वीडियो स्क्रीनशॉट

बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले शुक्रवार (25-09-2020) को पटना की सड़कों पर जमकर बवाल हुआ। यहां भारतीय जनता पार्टी और पप्पू यादव की जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ता आपस में ही भिड़ गए। इस मारपीट का एक वीडियो भी सामने आया है। वीडियो में नजर आ रहा है कि बीजेपी कार्यकर्ताओं ने जाप के कार्यकर्ताओं को लाठी-डंडे से दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। वीडियो में नजर आ रहा है कि एक शख्स सड़क पर दौड़ रहा है औऱ उसके पीछे कुछ लोग लाठी-डंडा लेकर दौड़ रहे हैं।

कुछ ही दूर दौड़ाने के बाद यह लोग उसे पकड़ लेते हैं और फिर उसकी धुनाई शुरू कर देते हैं। बताया जा रहा है कि जाप के कार्यकर्ता कृषि बिल को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। इस प्रदर्शन के दौरान जाप कार्यकर्ताओं ने बीजेपी के कार्यालय में घुसने की कोशिश की। जिसके बाद यह सारा बवाल बढ़ा। कार्यालय में घुसने की कोशिश कर रहे जाप कार्यकर्ताओं को जमकर पीटा गया।

यहां आपको बता दें कि संसद से पारित हो चुके कृषि सुधार विधेयकों का देशभर में जमकर विरोध हो रहा है। इन विधेयकों के खिलाफ आज भारत बंद का आह्वान किया गया है। तमाम किसान संगठनों की ओर से आहूत देशव्यापी बंद को राजनीतिक दलों ने समर्थन देने का ऐलान किया है। जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष पप्पू यादव ने भी किसानों के समर्थन में आज बिहार बंद बुलाया है। किसान बिल के मुद्दे पर पप्पू यादव भी केंद्र सरकार के खिलाफ खड़े हैं।

खुद पप्पू यादव भी आज पटना में बंद को सफल बनाने के लिए सड़क पर उतरे। कई जगहों पर सड़कों को जाम कर दिया गया। कांग्रेस के नेताओं ने भी बंद के समर्थन में सड़क पर उतरने का ऐलान कर रखा है। पटना में प्रशासन को हाई अलर्ट पर रखा गया है। इसी प्रदर्शन के दौरान जाप के कार्यकर्ता बीजेपी के कार्यालय तक पहुंच गए थे और जैसे ही उन्होंने मुख्य दरवाजे पर आकर पीएम मोदी के खिलाफ नारे लगाए, बीजेपी कार्यकर्ता भड़क गए और फिर यह मारपीट शुरू हो गई।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहले ही कृषि विधेयकों का समर्थन कर चुके हैं और इसे किसानों के लिए हितकारी बता चुके हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘देह व्यापार कानून में अपराध नहीं महिला को पेशा चुनने का हक’, बॉम्बे HC ने 3 सेक्स वर्करों को किया रिहा
2 यूपी: दलित महिला ने ऊंची जाति के लोगों पर गैंगरेप कर गला दबाने का लगाया आरोप, कांग्रेस नेता ने कहा- अन्याय बर्दाश्त नहीं करेंगे
3 इंडियन पुलिस फाउंडेशन का आऱोप – पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडे ने वर्दी को बदनाम किया और नियम तोड़े, जानिए क्या है मामला
यह पढ़ा क्या?
X