ताज़ा खबर
 

Online Job पोर्टल से बेरोजगार युवकों की जानकारी जुटाते, फिर देते थे नौकरी दिलाने का झांसा; यूं हुआ रैकेट का भंडाफोड़

मामले में हरियाणा पुलिस ने बताया कि कि इस धोखाधड़ी का खुलासा तब हुआ था जब 15 जुलाई को राहुल कौशिक नामक एक व्यक्ति ने इस फर्जी कॉलसेंटर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी।

Author गुड़गांव | Updated: December 5, 2019 12:36 PM
प्रतीकात्मक फोटो (सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

हरियाणा के गुड़गांव में पुलिस ने फर्जी कॉलसेंटर के नाम पर लोगों को ठगने वाले गिरोह के 14 लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने यह खुलासा किया कि वे बेरोजगार युवकों को विदेशी कंपनियों में नौकरी दिलाने के नाम पर उन्हें कथित रूप से ठगते थे। पुलिस ने यह भी बताया कि गिरोह फर्जी कॉलसेंटर के माध्यम से युवकों को संपर्क कर उन्हें अपने जाल में फंसाते थे। आरोपियों से पुलिस आगे पूछताछ भी कर रही है और मामले का पूरा खुलासा जांच के बाद करने की बात कही है।

क्या है पूरा मामलाः गुड़गांव पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी सुभाष बोकन ने बताया कि साइबर शाखा की एक टीम ने मंगलवार (03 दिसंबर) को सोहना में स्पाजेडे टावर के एक कॉलसेंटर पर छापा मारा था। इस छापा में दो लैपटॉप, दस मोबाइल फोन, दस सिमकार्ड एवं डेढ़ लाख रूपए नकद बरामद किए हैं। पुलिस को अंसादिवि इंफोटेक प्राइवेट लिमिटेड नामक कॉलसेंटर के बारे में शिकायत मिली थी जिसपर कार्रवाई करते हुए छापा मारा था।

Karnataka Bypolls Live Updates: कर्नाटक उपचुनाव की खबरों के लिए यहां करें क्लिक

पीड़ित के शिकायत पर मारा गया छापाः इस पर जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि कि यह मामला तब सामने आया जब 15 जुलाई को राहुल कौशिक नामक एक व्यक्ति ने इस फर्जी कॉलसेंटर के खिलाफ शिकायत कराई थी। बता दें कि कॉलसेंटर वालों पर चूना लगाने का आरोप लगा है।

Hindi News Today, 05 December 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

ऐसे बनाते थे निशानाः बोकन के अनुसार पूछताछ के दौरान आरोपियों ने खुलासा किया कि वे युवकों को फोन कर विदेशी कंपनियों में अच्छी नौकरी का झांसा देते थे। पुलिस ने यह भी खुलासा किया कि वे इन युवकों का नाम और नंबर ऑनलाइन जॉब पोर्टल से निकालते थे। मामले में ऑनलाइन जॉब पोर्टल से जुड़े कुछ लोगों के शामिल होने की आशंका है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 पूर्व क्रिकेटर ने लोन एजेंट से की वसूली, पैसे नहीं दिए तो किडनैप कर लिया, 4 साथियों संग गिरफ्तार
2 प्रिंटर-स्कैनर से छापते थे 100, 500 और 2000 के नकली नोट, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में ऐसे करते थे खपत
3 MP के रीवा में बड़ा हादसा, ट्रक-बस की जोरदार टक्कर में 9 की मौत, 23 घायल
ये पढ़ा क्या?
X
Testing git commit