ताज़ा खबर
 

Ex-CJI आरएम लोढा से ऑनलाइन ठगे थे एक लाख रुपए, दोस्त का ईमेल अकाउंट हैक कर मांगी थी मदद, एक गिरफ्तार

फिलहाल पुलिस मुख्य आरोपी को ट्रेस नहीं कर पाई है। पुलिस का कहना है कि अभी ईमेल प्रोवाइडर के रिस्पॉन्स का इंतजार किया जा रहा है, जिसमें करीब 15 दिन लग सकते हैं।

Author नई दिल्ली | June 12, 2019 7:38 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर (इंडियन एक्सप्रेस)

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस आरएम लोढा से एक लाख रुपए के ऑनलाइन फ्रॉड के मामले में पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। वह राजस्थान के उदयपुर का रहने वाला है। पुलिस ने बैंक अकाउंट के माध्यम से उसे ट्रैक किया। हालांकि, पुलिस अब तक मुख्य आरोपी को नहीं ढूंढ पाई है।

दिल्ली दक्षिण के अडिशनल डीसीपी परविंदर सिंह ने बताया कि आरोपी की पहचान दिनेश माली (44) के रूप में हुई है। वह उदयपुर के मालीवाड़ा का रहने वाला है। पुलिस के मुताबिक, दिनेश वॉटर प्यूरीफायर इंस्टॉल करता है। उसे पुलिस की 6 सदस्यीय टीम ने गिरफ्तार किया। यह टीम बैंक अकाउंट ट्रेस करते हुए उदयपुर पहुंची थी। जस्टिस लोढा ने पुलिस को बताया था कि उन्हें सुप्रीम कोर्ट के एक पूर्व जज का ईमेल मिला था, जिसके बाद उन्होंने सर्जन का अकाउंट समझकर एक लाख रुपए ट्रांसफर किए थे। पूर्व जज के ईमेल अकाउंट से भेजे गए संदेश में उनके चचेरे भाई को गंभीर बीमारी का जिक्र किया गया था।

National Hindi News, 12 June 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

पूर्व जस्टिस आरएम लोढा के मुताबिक, जांच में पता चला था कि 19 अप्रैल को उनके पास आए ईमेल से 2 दिन पहले ही उनके दोस्त का ईमेल अकाउंट हैक हो गया था। आरोपी ने जस्टिस लोढा को झांसे में लेकर दिनेश के बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर कराए थे। पुलिस के मुताबिक, जस्टिस लोढा की ओर से पैसे ट्रांसफर होने के बाद दिनेश स्थानीय एटीएम में गया था और उसने 2 बार में रुपए निकाल लिए थे। जब उसके बैंक अकाउंट की जांच की गई तो पुलिस को पिछले 3 दिन में 3 लाख रुपए का ट्रांजेक्शन होने का पता चला। पुलिस के मुताबिक, जस्टिस लोढा की तरह कई लोगों को ठगे जाने की जानकारी मिली है। हम बाकी पीड़ितों से भी संपर्क कर रहे हैं।

फिलहाल पुलिस मुख्य आरोपी को ट्रेस नहीं कर पाई है। पुलिस का कहना है कि अभी ईमेल प्रोवाइडर के रिस्पॉन्स का इंतजार किया जा रहा है, जिसमें करीब 15 दिन लग सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X