ताज़ा खबर
 

‘पैसे नहीं दोगे तो बेच दूंगा किडनी’, लापता लोगों के परिजनों को फोन कर मांगता था Paytm से फिरौती; यूं हुआ गिरफ्तार

पुलिस अधीक्षक श्रीमती श्रद्धा नरेंद्र पांडे ने बताया, ‘फरीदाबाद निवासी अभिमन्यु शर्मा एक शातिर ठग है। जिसने उन लोगों को अपना निशाना बनाया जिनके परिवार के लोग लापता हो गए थे, या गुमशुदा थे।’

Author नोएडा | January 5, 2020 1:18 PM
fraudप्रतीकात्मक फोटो (सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

लापता और गुमशुदा हुए लोगों के परिवार वालों को भावनात्मक रूप से ब्लैकमेल कर उनसे ठगी करने वाले एक शातिर ठग को ग्रेटर नोएडा की थाना-5 साइट पुलिस ने परी चौक से उस समय धर-दबोचा जब वह एक गुमशुदा के परिजनों से पैसे लेने के लिए वहां पहुंचा था। पुलिस ने यह जानकारी दी है। पुलिस के अनुसार, आरोपी थानों और सार्वजनिक स्थानों पर गुमशुदा लोगों के लगे पोस्टरों पर से फोन नंबर लेकर उनके परिजनों के मोबाइल पर फोन करता था। उन्होंने बताया कि उनसे कहता था कि की उनके परिवार का गुमशुदा व्यक्ति उसके पास है। वह परिजनों को पेटीएम अकाउंट से पैसे जमा करने के लिए कहता था। ठगों ने इस तरह से चूना लगाकर कई लोगों को ठगा है।

ब्लैकमेल कर ऐंठता था पैसा-पुलिस अधीक्षकः ग्रेटर नोएडा के सहायक पुलिस अधीक्षक श्रीमती श्रद्धा नरेंद्र पांडे ने बताया, ‘फरीदाबाद निवासी अभिमन्यु शर्मा एक शातिर ठग है। जिसने उन लोगों को अपना निशाना बनाया जिनके परिवार के लोग लापता हो गए थे, या गुमशुदा थे।’ उन्होंने यह भी कहा कि शर्मा ऐसे परिवारों के तलाश में रहता था और उनके मोबाइल नंबर हासिल कर, उन्हें भावनात्मक रूप से ब्लैकमेल करता था। एएसपी ने कहा, ‘वह कहता था कि अगर गुमशुदा का पता चाहिए तो उसके लिए पेटीएम से उसके अकाउंट में पैसे डालने होंगे, ऐसा ना करने पर गुमशुदा हुए व्यक्ति को हानि पहुंचाने की बात कर, उन्हें भयभीत करता था। जिससे लोग उसे पैसे दे देते थे।’

Hindi News Today, 5 January 2020 LIVE Updates: देश की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

ऐसे किया फिरौती की मांगः मामले में एएसपी ने बताया कि बुलंद शहर निवासी मोहर सिंह का 24 वर्षीय मानसिक रूप से विक्षिप्त पुत्र 12 नवंबर को गायब हो गया था, और इसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट साइट- 5 थाने में दर्ज की गई थी। उन्होंने कहा कि आरोपी अभिमन्यु शर्मा ने मोहर सिंह को फोन कर कहा कि उनका बेटा राहुल उनके कब्जे में है और अगर उसकी सही सलामत वापसी चाहते हैं, तो पेटीएम अकाउंट में 20 हज़ार ट्रांसफर करने होंगे।

आरोपी पैसे नहीं देने पर देता था धमकीः श्रद्धा नरेंद्र पांडे ने कहा कि इस पर मोहर सिंह ने कहा कि वह पहले राहुल का तस्वीर भेजें, तभी उन्हें यकीन होगा। एएसपी ने कहा कि इस पर अभिमन्यु शर्मा भड़क गया और उसने धमकी दी कि वह राहुल की हत्या कर उसके अंगों को बेच कर पैसे हासिल कर लेगा। उसने यह भी कहा कि वह ऐसे कई लोगों के अंगों को बेच चुका है, किडनी के ही उसे डेढ़ लाख रुपए मिल जाते हैं। जिस पर मोहर सिंह घबरा गए, और उसके अकाउंट में पांच हज़ार रुपए ट्रांसफर कर दिए।

पुलिस ने रंगे हाथों किया गिरफ्तारः मामले में एएसपी ने कहा कि आरोपी अभिमन्यु ने ना तो राहुल का पता बताया और ना ही उसे मोहर सिंह को सौंपा। इसके बाद मोहर सिंह ने थाने में इस बात की तहरीर दी, पुलिस ने कार्रवाई करते हुए अभिमन्यु को बाकी पैसे देने के लिए परी चौक पर बुलाया, जहां उसे दबोच लिया गया। पुलिस के मुताबिक, पूछताछ में अभिमन्यु बताया कि वह इस प्रकार से 20 से 25 लोगों को भावनात्मक रूप से ब्लैकमेल कर ठग चुका है। पुलिस ने अभिमन्यु को आईपीसी की धारा 386 के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मिठाई की दुकान पर UP पुलिस के दरोगा ने काटा बवाल! सर्विस रिवाल्वर से कर दी फायरिंग; SP ने लिया यह एक्शन
2 बहन को प्रेमी के साथ आपत्तिजनक हालत में देख भड़क उठा भाई, कुल्हाड़ी से वार कर उतारा मौत के घाट
3 Chhattisgarh: विधायक की सुरक्षा में तैनात जवान ने AK-47 से खुद को मारी गोली, राइफल की बुलेट से छलनी हुआ सीना
ये पढ़ा क्या?
X