ताज़ा खबर
 

महिला को 2 जन्म तक जेल में रहने की मिली थी सजा, पढ़िए उस सीरियल किलर की कहानी जिसने कई मासूमों को सुलाया मौत की नींद

बॉब के बारे में कहा जाता है कि वो काफी क्रूर इंसान थे। वो मायरा की अक्सर पिटाई किया करते थे लेकिन उन्होंने मायरा को यह भी सिखाया कि आखिर लड़ाई कैसे की जाती है।

crime, crime newsसांकेतिक तस्वीर। फोटो सोर्स – एक्सप्रेस अर्काइव

इस महिला के गुनाहों की दास्तान को सुनकर आप सिहर उठेंगे। कहा जाता है कि कई बच्चों को मौत की नींद सुलाने से पहले इस महिला ने उन्हें काफी प्रताड़ित किया था। ब्रिटेन की Myra Hindley को यहां की सबसे क्रूर महिलाओं की लिस्ट में रखा गया है। बताया जाता है कि Myra Hindley का जन्म साल 1942 में जुलाई के महीने में मैनेचेस्टर में हुआ था। मायरा हिंडले के पिता बॉब एक मजदूर थे। दूसरे विश्वयुद्ध के दौरान वो Parachute Regiment के साथ थे। बॉब के बारे में कहा जाता है कि वो काफी क्रूर इंसान थे। वो मायरा की अक्सर पिटाई किया करते थे लेकिन उन्होंने मायरा को यह भी सिखाया कि आखिर लड़ाई कैसे की जाती है।

साल 1946 में माइरा की बहन Maureen का जन्म हुआ। इसके बाद मायरा हिंडले अपनी दादी के साथ रहने चली गई और कहा जाता है कि बचपन में वो आम बच्चों की तरह ही थी। 18 साल की उम्र में मायरा ने Millwards Merchandise ज्वायन किया। यह मैनेचेस्टर के Gorton में स्थित था जो एक कैमिकल डिस्ट्रीब्यूशल फर्म था। यहां पर उनकी मुलाकात Ian Brady नाम के शख्स से हुई थी। इसके बाद दोनों प्यार में पड़े और फिर दोनों मायरा की दादी के घर पर ही रहने लगे। प्रेमी के साथ रहने के दौरान धीरे-धीरे मायरा के व्यवहार में परिवर्तन आया। इन दोनों ने एक बैंक में डाका डालने का प्लान भी बना लिया था।

बताया जाता है कि 12 जुलाई, 1963 को इस कपल ने 16 साल के Pauline Reade की हत्या कर दी। Pauline Reade को मायरा अपने साथ लाई थी और फिर इस कपल ने मिलकर उनका शारीरिक शोषण किया फिर बेरहमी से उनकी हत्या कर दी। 23 नवंबर को इस कपल ने 12 साल के एक लड़के John Kilbride को कार में लिफ्ट देने के बहाने उसका यौन शोषण किया और फिर उसकी भी हत्या कर दी।

कहा जाता है कि 16 जून, 1964 को इन लोगों ने Keith Bennett नाम के एक लड़के की हत्या की और इस लड़के का शव कभी नहीं मिला। इसी तरह इस कपल ने मिलकर कई बच्चों को मौत के घाट उतारा। महिला के पकड़े जाने के बाद उसने अदालत में अपना जुर्म कबूल किया था। बताया जाता है कि उसके अपराधों के लिए उसे अदालत ने दो जन्म तक जेल की सज़ा सुनाई थी। पकड़े जाने के 17 सालों बाद जेल में ही 60 साल की उम्र में इस महिला की मौत हो गई थी। नवंबर 2002 में मायरा की मौत हुई थी।

Next Stories
1 मुंबई अंडरवर्ल्ड का ‘डैडी’, दाउद से भी है अदावत; कभी दूधवाला कहे जाने वाले अरुण गवली की कहानी…
2 यूपी: मुख्तार ही नहीं बदन सिंह बद्दो भी जुर्म की दुनिया में है मशहूर, ट्रक ड्राइवर से गैंगस्टर बनने की पूरी कहानी..
3 महिला कलेक्टर ने BJP कार्यकर्ता को जड़ा था थप्पड़, ASI को भी तमाचा मार रहीं सुर्खियों में; IAS निधि निवेदिता की कहानी
आज का राशिफल
X