जमानत पर तत्काल सुनवाई की बहुत ज्यादा जरूरत नहीं, आर्यन खान केस में बोली NCB, कोर्ट ने दे दी अगली तारीख

मुम्बई ड्रग्स केस में आर्यन खान के बेल केस पर अब 13 अक्टूबर को सुनवाई होगी। सोमवार को सुनवाई के दौरान एनसीबी के वकील और खान के वकील के बीच जोरदार बहस देखने को मिली। जमानत का विरोध करते हुए एनसीबी ने जवाब देने के लिए टाइम मांगा जिसके बाद उसे बुधवार तक का समय मिल गया।

अभी जेल में ही रहेंगे आर्यन (फाइल फोटो-पीटीआई)

मुंबई क्रूज ड्रग्स केस में एनसीबी ने फिर से आर्यन खान की जमानत याचिका में पेंच फंसा दिया है। मुम्बई की कोर्ट में आर्यन की जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान एनसीबी और खान के वकील के बीच जोरदार बहस देखने को मिली। हालांकि बाद में कोर्ट ने इस मामले पर अगली तारीख देते हुए एनसीबी से 13 अक्टूबर तक जवाब मांगा है।

आर्यन खान के वकील अमित देसाई ने सोमवार को जमानत याचिका का जिक्र किया तो एनसीबी के वकील ए एम चिमलकर और अद्वैत सेठना ने जवाब देने और हलफनामा दाखिल करने के लिए एक हफ्ते का समय मांगा। उन्होंने कहा कि मामले की जांच अब भी जारी है। एनसीबीम ने इस मामले में काफी सामग्री भी जमा की है। दूसरी ओर ये देखने की जरूरत है कि क्या आर्यन खान को जमानत पर रिहा करने से मामले की जांच में बाधा आएगी या नहीं?

NCB के वकील की इस दलील का देसाई ने जोरदार विरोध किया। उन्होंने कहा कि यह एक व्यक्ति की स्वतंत्रता का सवाल है। उन्होंने तर्क दिया कि आरोपी को जमानत पर रिहा करने से मामले में जांच बंद नहीं होगी। देसाई ने कहा, ‘‘ जमानत देने से जांच बंद नहीं हो जाएगी। एनसीबी जांच जारी रख सकती है। यह उनका काम है। मेरे मुवक्किल को हिरासत में रखना जरूरी नहीं है, क्योंकि उसके पास से कुछ भी बरामद नहीं हुआ है”।

आर्यन के वकील ने कहा कि गिरफ्तारी के बाद से वह एक हफ्ते से एनसीबी की हिरासत में हैं और दो बार उसका बयान दर्ज किया गया है। अब उसे जेल में रखने की क्या जरूरत है? एनसीबी के वकील सेठना ने कहा कि जमानत याचिका पर तत्काल सुनवाई की बहुत ज्यादा आवश्यकता नहीं है।

चिमलकर ने हालांकि कहा कि एजेंसी को जवाब दाखिल करने के लिए कम से कम कुछ दिन तो चाहिए। उन्होंने कहा- “आर्यन खान न्यायिक हिरासत में है। जमानत पर उनकी रिहाई हमारी जांच को प्रभावित करेगी या बाधित करेगी, इस पर गौर करने की जरूरत है।’’ देसाई ने तब अदालत से आर्यन खान की याचिका पर अलग से सुनवाई और फैसला करने की मांग करते हुए कहा कि मामले में प्रत्येक आरोपी से ड्रग्स की बरामदगी का मामला अलग-अलग था।

चिमलकर और सेठना ने इसका विरोध किया और कहा कि यह एक ही मामला है। इसके बाद, अदालत ने कहा कि आर्यन खान की जमानत याचिका पर बुधवार को सुनवाई की जाएगी। आर्यन खान के अलावा, मामले में गिरफ्तार मुनमुन धमेचा, अरबाज मर्चेंट, नूपुर सतेजा और मोहक जायसवाल ने भी जमानत याचिका दायर की है।

बता दें कि मुंबई के तट पर एक क्रूज से प्रतिबंधित मादक पदार्थ जब्त किए जाने के मामले में अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था। जिसके बाद से आर्यन न्यायिक हिरासत में हैं। खान अभी मुंबई में आर्थर रोड जेल में बंद हैं। उन्होंने पिछले सप्ताह जमानत के लिए मजिस्ट्रेट अदालत का रुख किया था। जहां कोर्ट ने कहा था कि उसके पास जमानत आवेदन पर विचार करने का कोई अधिकार नहीं है, क्योंकि मामले पर विशेष अदालत सुनवाई करेगी। इसके बाद आर्यन ने विशेष अदालत का रुख किया था।

पढें जुर्म समाचार (Crimehindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट