ताज़ा खबर
 

बॉयफ्रेंड को दिखाने के लिए चार साल की बेटी से कराती थी गंदी हरकतें, साइन किया सेक्‍स स्‍लेव बनाने का कॉन्‍ट्रैक्‍ट

पुलिस को जांच-पड़ताल में मालूम पड़ा कि आरोपी महिला ने एक कॉन्ट्रैक्ट पर दस्तखत भी किए थे। "सर्टिफिकेट ऑफ सेल ऑफ माई सूल" शीर्षक वाला यह कॉन्ट्रैक्ट महिला ने अपने बॉयफ्रेंड को ध्यान में रखकर साइन किया था। उसमें वादा किया गया था, "मैं तुम्हें अपना तन, मन और आत्मा देती हूं। मैं पुष्टि करती हूं कि अब से मैं तुम्हारी हूं।"

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Unsplash)

स्विजरलैंड में एक महिला की हैवानियत से जुड़ा एक मामला सामने आया है। महिला यहां अपनी नाबालिग बेटी से गंदी हरकतें कराती थी। आरोपी मां ने उसे सेक्स स्लेव बनाने के लिए एक कॉन्ट्रैक्ट भी साइन कर लिया था। ये सब महिला ने अपने बॉयफ्रेंड को दिखाने के लिए किया था। शिकायत के आधार पर आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया गया है, जिसकी पहचान 31 वर्षीय सारा आई. के रूप में हुई है। आरोप है कि वह कैमरे के सामने अपनी बेटी को भद्दी गालियां देती थी। रिकॉर्डिंग के दौरान महिला उससे कामोत्तेजक हरकतें करने के लिए कहती थी। आरोपी महिला का 53 वर्षीय बॉयफ्रेंड फ्रैंक हीतम्यूलर इन सब क्लिप्स को देखता था और शूट भी करता था। पुलिस ने इस मामले में सेंट गैलन स्थित घर से आरोपी महिला की गिरफ्तार हुई है, जबकि हीतम्यूलर को उसके जर्मनी स्थित घर से दबोचा गया।

पुलिस को जांच-पड़ताल में मालूम पड़ा कि आरोपी महिला ने एक कॉन्ट्रैक्ट पर दस्तखत भी किए थे। “सर्टिफिकेट ऑफ सेल ऑफ माई सूल” शीर्षक वाला यह कॉन्ट्रैक्ट महिला ने अपने बॉयफ्रेंड को ध्यान में रखकर साइन किया था। उसमें वादा किया गया था, “मैं तुम्हें अपना तन, मन और आत्मा देती हूं। मैं पुष्टि करती हूं कि अब से मैं तुम्हारी हूं।”

कॉन्ट्रैक्ट में आगे महिला ने अपनी बेटी को सेक्स स्लेव बनाने का जिक्र किया। आरोपी महिला के बॉयफ्रेंड ने उससे कह रखा था कि वह अपनी बेटी को नाम के बजाय पिगलेट (सुअर का बच्चा) कहकर पुकारे। सेंट गैलन कोर्ट में इस मामले को लेकर ट्रायल शुरू होने वाला है। सारा आई. न्यायिक हिरासत में हैं, जबकि हीतम्यूलर जमानत पर छूट गया। आरोपी महिला ने पूछताछ के दौरान अपने जुर्म को कबूल किया था, जिसके बाद उसे साढ़े तीन साल जेल की सजा सुनाई गई थी। वहीं, बॉयफ्रेंड को कोर्ट ने पांच साल जेल की सजा का फरमान सुनाया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App