scorecardresearch

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड का आरोपी गैंगस्टर दीपक टीनू पुलिस हिरासत से हुआ फरार, लॉरेंस गैंग का है करीबी

Gangster Deepak Tinu: पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में आरोपी दीपक उर्फ ​​टीनू पुलिस हिरासत से फरार हो गया।

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड का आरोपी गैंगस्टर दीपक टीनू पुलिस हिरासत से हुआ फरार, लॉरेंस गैंग का है करीबी
दीपक टीनू, जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का करीबी सहयोगी है। (Photo Credit – Twitter/Punjab-Bhiwanipolice)

Gangster Lawrence aide Deepak Tinu escaped from police custody: पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड (Sidhu Moosewala Murder Case) में आरोपी दीपक ​​टीनू शनिवार को देर रात पुलिस हिरासत से फरार हो गया। पुलिस अधिकारियों ने रविवार को कहा कि दीपक टीनू जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई (Lawrence Bishnoi) का करीबी सहयोगी है।

CIA की हिरासत से फरार हुआ है टीनू

दीपक टीनू, क्राइम इंवेस्टिगेशन एजेंसी (CIA) की हिरासत से फरार हुआ है। टीनू (Deepka Tinu) को मूसेवाला हत्याकांड में चार्जशीट किया गया था। उसे मानसा पुलिस द्वारा किसी अन्य मामले में गोइंदवाल साहिब जेल से पेशी वारंट पर लाया गया था। अधिकारियों ने कहा कि टीनू, गैंगस्टर संपत नेहरा (Sampat Nehra) और बिश्नोई का करीबी सहयोगी है। गैंगस्टर को पकड़ने के लिए बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान शुरू कर दिया गया है।

हरियाणा के भिवानी का है दीपक टीनू

गैंगस्टर दीपक कुमार उर्फ ​​टीनू हरियाणा के भिवानी (Bhiwani) का रहने वाला है। टीनू के पिता पेंटर हैं। दीपक कुमार उर्फ ​​टीनू के खिलाफ हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ़, राजस्थान, दिल्ली में हत्या, हत्या के प्रयास समेत 35 से ज्यादा मामले दर्ज हैं।

देखें संबंधित वीडियो

11 सालों से है लॉरेंस बिश्नोई का खास गुर्गा

दीपक टीनू, साल 2017 से जेल में है और पिछले 11 सालों से लॉरेंस बिश्नोई गिरोह से जुड़ा हुआ है। उसका नाम भिवानी में बंटी मास्टर और पंजाब में गैंगस्टर लवी देवड़ा की हत्या में सामने आया था। दीपक के बाद उसके छोटे भाई चिराग को भी ड्रग तस्करी (Drugs Smuggling) और कार चोरी के मामले में गिरफ्तार किया गया था।

जवाहरके गांव में हुई थी मूसेवाला की हत्या

पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की 29 मई को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। हत्या के बाद पंजाब सरकार (Punjab Government) द्वारा उनके सुरक्षा कवर को कम करने की भारी आलोचना की गई थी। तभी से लगातार हो रही जांच के बीच अब तक 30 से अधिक आरोपियों की पहचान की जा चुकी है और अधिकतर आरोपियों के संबंध बिश्नोई गैंग से निकलकर सामने आए हैं। अब तक इस मामले में दो दर्जन से अधिक गिरफ्तारियां की जा चुकी हैं। सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद मूसेवाला के पिता बलकौर सिंह (Balkaur Singh) के बयानों के आधार पर मामला दर्ज किया गया था।

पढें जुर्म (Crimehindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 02-10-2022 at 12:15:29 pm