ताज़ा खबर
 

राजस्‍थान: दामाद के साथ मिलकर मां ने रची साजिश, बेटे की हत्‍या के लिए दी 1 लाख रुपये की फिरौती

राजस्थान से एक अविश्वसनीय ही नहीं बल्कि हैरान करने वाली घटना सामने आई है। यहां एक मां पर अपने ही बेटे की सुपारी देकर हत्या कराने का आरोप लगा है।

Author नई दिल्ली | April 15, 2018 3:01 PM
इस तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।

राजस्थान से एक अविश्वसनीय ही नहीं बल्कि हैरान करने वाली घटना सामने आई है। यहां एक मां पर अपने ही बेटे की सुपारी देकर हत्या कराने का आरोप लगा है। पुलिस ने महिला व उसके दामाद तथा भाड़े के हत्यारोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में पता चला कि महिला ने ढाबा चलाने वाला वाले एक कांट्रैक्ट किलर को हत्या के लिए डेढ़ लाख रुपये दिए।पुलिस ने बेटे की लाश सात अप्रैल को एनच-113 किनारे स्थित रति तलई नामक स्थान से बरामद किया था। पुलिस ने उसकी मां प्रेम लता, जीजा किशन कुमार और हत्या में शामिल महादेव दुखद और गनपत सिंह को गिरफ्तार किया था।

बताया जाता है कि 21 वर्षीय मोहित मानिसक रूप से बीमार था। वह ड्रग्स की लत का शिकार था। पिता की मौत के बाद वह मां का उत्पीड़न करता था। बेटे के उत्पीड़न से परेशान होकर मां अपने दामाद के बंबौरी गांव करीब डेढ़ महीने से आकर रह रही थी।

HOT DEALS
  • Lenovo K8 Plus 32 GB (Venom Black)
    ₹ 8199 MRP ₹ 11999 -32%
    ₹1245 Cashback
  • Lenovo Phab 2 Plus 32GB Gunmetal Grey
    ₹ 17999 MRP ₹ 17999 -0%
    ₹0 Cashback

छोटी सदरी के थानाध्यक्ष प्रवीन के मुताबिक महिला के पास चार बीघा जमीन थी, जिसे वह हत्यारोपी महादेव को बेचना चाहती थी। जबकि मोहित जमीन बेचने का विरोध कर रहा था। जिस पर उसकी मां और बहनोई ने मोहित की हत्या की साजिश रची। उन्होंने इसमें महादेव नामक व्यक्ति से मदद मांगी तो उसने रानी खेड़ा गांव में में ढाबा चलाने वाले बंबौरी के गणपत सिंह राजपूत से हत्या के लिए बात की। राजपूत को मोहित की हत्या के लिए एडवांस में 50 हजार रुपये देकर बाकी पैसा घटना के बाद देने की बात कही गई।

जब छह अप्रैल को मोहित ढाबे पर खाना खाने लगा। गणपत ने उसके भोजन में नींद की गोलियां मिला दीं। खाना खाने के बाद मोहित गणपति के ढाबे के एक वर्कर को साथ लेकर घर रवाना हो गया। गणपत भी उसका पीछा करने लगा। सिवाना नामक स्थाने के पास गणपत ने मोहित को बीयर पीने के लिए दिया। जब मोहित नशे में चेतनाशून्य हो गया तो आरोपियों ने कपड़े से गला दबाकर मौत के नींद सुला दिया। फिर वे ढाबे पर लौटकर अपने काम को फिर से करना लगा, मानो कुछ हुआ ही न हो।पुलिस ने हाईवे के सीसीटीवी कैमरे से घटना का खुलासा किया। पूछताछ में गणपति ने अपना जुर्म कुबूल कर लिया। आरोपी महिला को न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया गया, वहीं तीनों आरोपियों को पुलिस ने रिमांड पर लिया है। जबकि चौथे आरोपी अनिल नायक की पुलिस तलाश कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App