ताज़ा खबर
 

ड्रग्स देकर तीन महीने तक कुर्सी से बांध करते रहे रेप, ऐसे भागी 16 साल की लड़की

बीते 8 जून को बदमाश इस लड़की को अपनी कार से लेकर कहीं जा रहे थे। रास्ते में इस लड़की ने खुद को बचाने की खातिर चलती गाड़ी से छलांग लगा दी लेकिन बदमाश उसकी तलाश में जुट गए। भागते-भागते लड़की रास्ते में एक घने जंगल में झाड़ियों के पीछे जाकर छिप गई।

तस्वीर का प्रयोग प्रतीक के तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

16 साल की एक लड़की को बदमाशों ने तीन महीने तक बंधक बनाए रखा। इस नाबालिग के साथ बदमाशों ने कई बार गैंगरेप किया। किसी तरह इन बदमाशों के चंगुल से बच कर निकली इस लड़की ने अब अपने साथ हुए जुल्म-ओ-सितम की कहानी बयां की है। यह मामला कैलिफोर्निया का है। इस बच्ची को बदमा शिकंजे से बचाने में एक डाकिये ने बड़ी भूमिका अदा की है। 16 साल की यह लड़की पेलसरविली की रहने वाली है। लड़की ने बतलाया कि करीब तीन महीने पहले उसे कुछ लोगों ने अगवा कर लिया। यह लोग उसे सैक्रेमेन्टो इलाके में ले गए। यह एक घर में उसे कुर्सियों से बांध कर रखा गया। उसपर नज़र रखने के लिए कई सारे गार्ड और कुत्ते वहां तैनात थे। इस दौरान उसे ड्रग्स देकर उसके साथ कई बार बलात्कार किया गया। लड़की ने बतलाया कि कई बार उसके साथ मारपीट भी की गई। इस दौरान वो चीख-चीख कर उन लोगों से उसे उसकी मां के पास जाने देने की गुहार लगाती थी।

बीते 8 जून को बदमाश इस लड़की को अपनी कार से लेकर कहीं जा रहे थे। रास्ते में इस लड़की ने खुद को बचाने की खातिर चलती गाड़ी से छलांग लगा दी लेकिन बदमाश उसकी तलाश में जुट गए। भागते-भागते लड़की रास्ते में एक घने जंगल में झाड़ियों के पीछे जाकर छिप गई। उसी वक्त पेशे से डाकिया इवन क्रिस्टोटोमो अपने काम के सिलसिले में उस इलाके से होकर गुजर रहे थे। इवन क्रिस्टोटोमो की नजर इस डरी-सहमी लड़की पर पड़ी तो उन्होंने तुरंत अपनी गाड़ी रोक दी। लड़की ने घबराते हुए अपनी दास्तान इवन को सुनाई। इसके बाद इवन ने अपनी गाड़ी के अंदर लड़की को छिपा लिया। इतना ही नहीं उन्होंने लड़की की मां को भी तुरंत फोन कर इस बात की जानकारी दी। इवन ने पुलिस के आने तक इस बच्ची को अपनी गाड़ी के अंदर ही छिपा कर रखा।

पूरे मामले में पुलिस का कहना है कि ओक पार्क इलाके में हाल के दिनों में अपराध की घटनाओं में काफी बढ़ोतरी हुई है। पुलिस ने पोस्टमैन इवन की तारीफ करते हुए कहा कि वो इस बच्ची को लेकर भीड़भाड़ वाले इलाके में गए। इवन के प्रयासों ने पीड़ित लड़की की जिंदगी में सकारात्मक प्रभाव भी डाला हैं। पुलिस का कहना है कि मामले में आरोपियों की तलाश की जा रही है। वहीं पीड़ित लड़की और उसकी मां ने भी इस बहादुर और बेहद दयालु डाकिये को शुक्रिया कहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App