scorecardresearch

मेघालय: वेश्यालय चलाने के आरोपी भाजपा नेता को मिली सशर्त जमानत, हापुड़ से हुई थी गिरफ्तारी

Meghalaya: मेघालय हाईकोर्ट ने सेक्स रैकेट चलाने के आरोपी भाजपा नेता बर्नार्ड एन मराक को सशर्त जमानत दी है। भाजपा नेता को जुलाई में यूपी के हापुड़ से गिरफ्तार किया गया था।

मेघालय: वेश्यालय चलाने के आरोपी भाजपा नेता को मिली सशर्त जमानत, हापुड़ से हुई थी गिरफ्तारी
बर्नार्ड एन मराक। (Photo Credit – Facebook/@BernardNMarak)

Meghalaya BJP leader bernard n marak gets bail: मेघालय में अपने फार्महाउस पर वेश्यालय चलाने के आरोपी भाजपा नेता बर्नार्ड एन मराक को हाई कोर्ट ने जमानत दे दी है। कोर्ट ने शनिवार को सशर्त जमानत का आदेश देते हुए बर्नार्ड से कहा वह न तो फरार नहीं होगा और न ही सबूतों के साथ छेड़छाड़ करेगा।

जमानत देते हुए अदालत ने क्या कहा?

कोर्ट में अपने आदेश में यह भी कहा कि इन शर्तों के साथ उसे देश छोड़कर जाने की इजाजत भी नहीं है और वह मामले की जांच में सहयोग करेगा। कोर्ट ने मराक से 50,000 रुपये के निजी मुचलके के साथ इतनी ही राशि के दो सॉल्वेंट जमानत देने के लिए भी कहा गया था। न्यायमूर्ति डब्ल्यू डिएंगदोह ने अदालत के आदेश में कहा “आरोपी बर्नार्ड एन मराक को अन्य मामलों में वांछित नहीं होने पर जमानत पर रिहा करने का निर्देश दिया जाता है, बशर्ते निम्नलिखित शर्तों का पालन किया जाए।”

BJP नेता की पत्नी ने डाली थी जमानत याचिका

बताया गया है कि बर्नार्ड एन मराक की पत्नी एलके ग्रेसी ने शुक्रवार को जमानत अर्जी दाखिल की थी। मामले में दिए गए तर्कों के बाद हाई कोर्ट ने पाया कि बर्नार्ड भले ही उस संपत्ति का मालिक है, जिसमें वेश्यालय चलाया जा रहा था, लेकिन हाई कोर्ट ने संदेह जाहिर करते हुए कहा क्या इस बात की ओर इशारा करने के लिए पर्याप्त सबूत हैं कि उस जगह को वेश्यालय के रूप में इस्तेमाल किया गया था।

अपराध साबित करने वाले सबूतों का है अभाव- हाई कोर्ट

कोर्ट ने कहा कि “गवाहों के बयान और रिकॉर्ड पर मौजूद साक्ष्यों से आरोपी को कथित अपराध से जोड़ने के लिए पर्याप्त सबूत नहीं हैं, क्योंकि इस बात का कोई प्रारंभिक सबूत नहीं है कि घटनास्थल को वेश्यालय के रूप में इस्तेमाल किया गया है। साथ ही यह साबित करने के लिए भी कोई सबूत नहीं है कि वहां वेश्यावृत्ति को अंजाम दिया गया।

यूपी से हुई थी गिरफ्तारी, फार्म हाउस पर हुई थी छापेमारी

पूर्व उग्रवादी नेता बर्नार्ड एन मराक को उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले से गिरफ्तार किया गया था। पुलिस ने मेघालय के तुरा में उनके फार्महाउस पर छापेमारी की थी। छापेमारी के बाद फार्महाउस से छह नाबालिगों को छुड़ाया गया था और 73 लोगों को गिरफ्तार करने के साथ 500 पैकेट गर्भनिरोधक, आपत्तिजनक सामान और दर्जनों वाहन बरामद किए थे। इस मामले में तुरा महिला थाने में भाजपा नेता के खिलाफ अनैतिक तस्करी (रोकथाम) अधिनियम, 1956 की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था।

पढें जुर्म (Crimehindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 02-10-2022 at 11:24:57 am
अपडेट