scorecardresearch

कंट्रोल रूम में फोन कर शख्स ने SSP को बताया गरीबों का मसीहा, बोला- साहब का ट्रांसफर हुआ तो दे दूंगा जान

Meerut: मेरठ जिले के एसएसपी रहे प्रभाकर चौधरी 18 जिलों में एसएसपी रह चुके हैं। हालांकि पुलिस अब उस शख्स की तलाश कर रही है, जिसने कहा था कि वह एसएसपी के ट्रांसफर पर जान दे देगा।

Uttar Pradesh | SSP Prabhakar Chaudhary | Meerut | IPS Prabhakar Chaudhary
प्रतीकात्मक तस्वीर। (Photo Credit – Pixabay)

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में रविवार सुबह पुलिस कंट्रोल रूम में उस वक्त हड़कंप मच गया, जब एक शख्स ने कहा कि यदि शहर के एसएसपी साहब का ट्रांसफर हुआ तो वह अपनी जान दे देगा। इस घटना के बाद अब पुलिस कॉल करने वाले शख्स की तलाश कर रही है।

जानकारी के मुताबिक, मेरठ में एसएसपी प्रभाकर चौधरी की तैनाती थी लेकिन शनिवार को आई तबादले की लिस्ट में उनका नाम भी था। प्रभाकर चौधरी को अब आगरा भेज दिया गया है और रोहित सिंह सजवान को नया एसएसपी बनाया गया है। इसी क्रम में एक शख्स ने कॉल के जरिये कंट्रोल रूम में फोन कर कहा था कि ‘एसएसपी प्रभाकर चौधरी गरीबों के मसीहा हैं, अगर उनका ट्रांसफर हुआ तो जान दे दूंगा।

यह कॉल रविवार सुबह पुलिस कंट्रोल रूम में की गई थी। कंट्रोल रूम से जानकारी आगे बढाई गई और जब एक अधिकारी ने इस संबंध में शख्स से बात करनी चाही तो उसने केवल यही कहा कि एसएसपी साहब का ट्रांसफर रोका जाए। वह कुछ भी पूछने पर बस ट्रांसफर रोकने की मांग पर अड़ा रहा, हालांकि पुलिस के पूछने पर शख्स ने यह जानकारी नहीं दी कि वह कहां से बोल रहा है।

बता दें कि, प्रभाकर चौधरी करीब एक साल से मेरठ के एसएसपी थे और उन्होंने इस दौरान कई बड़े अपराधियों पर शिकंजा कसा था। इसके अलावा सोतीगंज के कबाड़ किले को ढहाने में उनकी बड़ी भूमिका मानी जाती रही है। यहां तक कि उन्होंने भ्रष्ट पुलिसकर्मियों पर शिकंजा कसते हुए इंस्पेक्टर सदर बाजार बिजेंद्र सिंह और एसओ महिला थाना मोनिका जिंदल समेत दस पुलिसवालों पर मुकदमा दर्ज कराया था।

हालांकि, अब जिन रोहित सिंह सजवान को जिले के एसएसपी के रूप में जिम्मेदारी दी गई है वह मूलतः टिहरी गढ़वाल उत्तराखंड के हैं। इससे पहले वह बरेली में डेढ़ साल से ज्यादा समय तक तैनात रहे हैं। रोहित सिंह सजवान बैच 2013 के आईपीएस अधिकारी हैं और अब मेरठ की कानून-व्यवस्था संभालेंगे।

मेरठ जिले के एसएसपी रहे प्रभाकर चौधरी 18 जिलों में एसएसपी रह चुके हैं। मेरठ में अब तक का उनका सबसे लंबा कार्यकाल रहा है। हालांकि पुलिस अब उस शख्स की तलाश कर रही है, जिसने कहा था कि वह एसएसपी के ट्रांसफर पर जान दे देगा।

पढें जुर्म (Crimehindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X