ताज़ा खबर
 

बीवी के सामने कबूली 20 महिलाओं से रेप की बात, फिर उसके साथ भी वही किया, अब होगी जेल

कोर्ट में पति के खिलाफ दी कुछ गवाही को कोर्ट नहीं माना जबकि किन्ही बातों को अनसुना कर दिया। हालांकि ज्यूड लवचिक 1995 के एक मामले में दोषी साबित हुआ, जिसमें उसने चार रूममेट्स संग खुद के अपार्टमैंट में उनका यौन उत्पीड़न किया।

तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

वर्जीनिया की एक महिला ने अपने पति की क्रूरता और बलात्कार से जुड़े कई खुलासे किए हैं। कैथरीन लवचिक ने कोर्ट को दी अपनी गवाही में बताया कि उसके पति ने बताया कि वह ऐसी पहली महिला है जिसे वह अपने पुराने राज बता सकता था। बलात्कारी पति ने उसे अपना काला मुखौटा दिखाया जो एक बैडरूम में रखा था। इसकी आड़ में उसने करीब बीस महिलाओं संग बलात्कार की बात कबूलते हुए बताया कि वह वर्जीनिया का ‘फैयर रेपिस्ट’ था। कैथरीन ने ये गवाही फैयरफेक्स काउंटी कोर्टरूम में दी है। कैथरीन ने बताया कि ज्यूड लवचिक उसके सिर पर बंदूक तानकर उसे एक घर में ले गया। उसे किचन टेबल की कुर्सी से बांध दिया। इसका बाद उसके साथ भी वहशी हरकत की।

कोर्ट में पति के खिलाफ दी कुछ गवाही को कोर्ट नहीं माना जबकि किन्ही बातों को अनसुना कर दिया। हालांकि ज्यूड लवचिक 1995 के एक मामले में दोषी साबित हुआ, जिसमें उसने चार रूममेट्स संग खुद के अपार्टमैंट में उनका यौन उत्पीड़न किया। जज इस मामले में दोषी साबित हुए ज्यूड के खिलाफ मंगलवार यानी आज सजा का ऐलान करेंगे। जानकारी के मुताबिक ज्यूड के खिलाफ अन्य दोष साबित नहीं हुए हैं लेकिन अधिकारी इस बात की जांच करने में जुटी हैं कि वो 17 और महिलाओं संग बलात्कार का गुनाहगार तो नहीं। इन महिलाओं संग बलात्कार वर्जीनिया के फैयरफेक्स और प्रिंस विलियम्स में 90 के दशक से पहले और 90 के दशक के बीच में किए गए।

कैथरीन ने बताया कि ज्यूड ने बताया कि मैं फैयरफेक्स शब्द गूगल नहीं कर सकती, वरना वो उसके घर को फॉलो कर सकता है। कैथरीन ने साल 2009 में किए ज्यूड के इकबालिया बयान की यह गवाही भी कोर्ट में दी। उसने बताया कि मैं यह बात किसी और को नहीं बता सकती, वरना वो मुझे खत्म कर देगा। मगर आखिर में कैथरीन ने उसकी सच्चाई दुनिया के सामने लाकर रख दी।

बता दें कि कैथरीन और ज्यूड लवचिक ने साल 2010 में विवाह किया और दोनों की एक बेटी है। मगर साल 2016 तक आते उनकी शादी नाकामयाब होने लगी। इस दौरान जब वह बेटी की कस्टडी का केस हार गई तो उसने पुलिस को वो सारी बात बता दी जो पति ने करीब एक दशक पहले उसे बताई थी। इसके बाद अधिकारी ने साल 1995 में बंद पड़े बलात्कार के उस सभी केसों की जांच शुरू कर दी। इसमें डीएनए टेस्ट किए गए। अन्य सबूत इकट्ठे किए गए। पिछले साल पुलिस ने ज्यूड को गिरफ्तार कर लिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App