ताज़ा खबर
 

वाराणसी: उधार दिए हुए 500 रुपए मांगना युवक को पड़ा भारी, दोस्तों ने चाकू से गोदकर मार डाला

वाराणसी में एक शख्स की 500 रुपए के लेन-देन को लेकर हत्या कर दी गई। संजय ने अपने एक साथी को 500 रूपए उधार दिए थे। वह उसी पैसों को लेने के लिए अपने ससुराल गोलगड्डा क्षेत्र में रहने वाले जोम परिवारों की बस्ती में गया था।

Author वाराणसी | August 3, 2019 1:13 PM
प्रतीकात्मक फोटो फोटो सोर्स- जनसत्ता

वाराणसी के गोलगड्डा मालगोदाम रेलवे कॉलोनी में एक शख्स की चाकू मारकर हत्या कर दी गई। हत्या की वजह 500 रूपए की लेनदेन बताई जा रही है। पुलिस ने बताया कि वारदात में शामिल एक शख्स को हिरासत में लिया गया है, वहीं अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है। मृतक की पहचान संजय राम के रूप में की गई है।जानकारी के मुताबिक संजय ने अपने एक साथी को 500 रूपए उधार दिए थे। वह उसी पैसों को लेने के लिए अपने ससुराल गोलगड्डा क्षेत्र में रहने वाले जोम परिवारों की बस्ती में गया था। इस दौरान संजय ने रवि, पीर, मोहम्मद और तीन अन्य लोगों साथ मिलकर ठेके पर शराब पी। इसके बाद जब नशे में धुत संजय ने रवि से उधार दिए हुए 500 रूपए मांगे तो उन दोनों के इस कहासुनी शुरू हो गई।

ताबड़तोड़ चाकू से कर दिया वारः बताया जा रहा है कि धीरे-धीरे कहासुनी इतनी बढ़ गई कि रवि और अन्य लोगों ने संजय पर शरीर पर चाकू से ताबड़तोड़ वार किया गया जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गया। संजय के सीने, बांह, चेहरे और पेट पर गंभीर चोटें आई। इसके बाद घटनास्थल से गुजर रहे आदमपुर थाने के फैंटम दस्ते ने संजय को मंडलीय अस्पताल पहुंचाया जहां पर इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलने पर मृतक की पत्नी, बच्चे, माता-पिता और ससुराल वाले मंडलीय अस्पताल पहुंचे और वहां जमकर हंगामा किया। हंगामा होते देख पुलिस ने संजय के शव को बीएचयू के पोस्टमॉर्टम हाउस भिजवा दिया।

National Hindi News, 03 August 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक
धरने पर बैठे परिजनः वारदात के बारे में जानकारी देते हुए एसपी दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि घटनास्थल से पल्सर बाइक बरामद कर ली गई है। वहीं एक आरोपी को हिरासत में लिया जा चुका है वहीं अन्य की तलाश जारी है। वहीं पीड़ित सूरज की हत्या में शामिल आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर जैतपुर थाने के सामने धरने पर बैठ गए। इसके बाद पुलिस के काफी देर तक समझाने के बाद वह धरने पर से हटने को तैयार हुए।

चोरी छिपे बिकती रही शराबः जानकारी के मुताबिक संजय की हत्या के बाद भी इलाके में शराब के ठेके पर चोरी छिपे शराब बेची जा रही थी। वहीं इस दौरान घटनास्थल पर लोगों का जमावड़ा लगा रहा। वहीं स्थानीय लोगों ने बताया कि वारदात के कुछ समय बाद जैतपुरा के इंस्पेक्टर शशिभूषण राय घटनास्थल पहुंचे और मौजूदा स्थिति का जायजा लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 दिल्ली: इलेक्ट्रिक टॉर्च से करंट लगा 500 लोगों को बनाया निशाना, ठक-ठक गैंग का लूट का नया तरीका
2 गुजरात: रास्ते में रोककर मुस्लिम युवक से पहले नाम पूछा, फिर धर्म और कर दिया हमला, 4 गिरफ्तार
3 गाजियाबाद: कार में बैठकर बातें कर रहे थे छात्र-छात्रा, पुलिसवालों ने धमकाकर ऐंठे 20 हजार, 5 सस्पेंड