ताज़ा खबर
 

हरियाणा: बिस्‍तर के नीचे छिपी थी महिला की लाश, ऊपर आराम से पांच दिन तक सोता रहा शख्‍स

घटना पर पुलिस ने बताया कि, जिस घर में लाश मिली, वह दिनेश का है। दिनेश चाय की दुकान चलाता है। दिनेश अपनी एक टैक्सी भी चलवाता है। जो उसने राजेश नाम के शख्स के दे रखी थी। बबिता इसी राजेश की पत्नी थी।

प्रतीकात्मक तस्वीर

दिल्ली से सटे गुरुग्राम में एक चौंका देने वाला सामने आया है। यहां बिस्तर के नीचे बेड में एक महिला शव छुपाया गया था। इससे बेखबर एक आदमी पांच दिन तक सोता रहा। बात में उसने ही इसकी जानकारी पुलिस को दी। अब पुलिस पड़ताल में लग गई है। बताया जा रहा है कि हत्या का शक मृत महिला के पति पर है। जिसकी तलाश अब पुलिस कर रही है।

मामला गुरुग्राम के सेक्टर 46 स्थित जल विहार कॉलोनी का है। शनिवार सुबह पुलिस के पास दिनेश नाम का व्यक्ति पहुंचा। उसने बताया कि उसके कमरे में रखे बेड में एक महिला का शव है। लाश मिलने की सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। घर पहुच कर पुलिस को बेड में महिला की लाश मिली। बेड के बॉक्स में पड़ा महिला के खराब होने लगा था। जिसकी वजह से भयंकर बदबू आ रही थी। शव के पैर मुड़े हुए थे। पुलिस ने बताया कि मृतक महिला का नाम  बबिता है। जिसकी उम्र 30 साल है।

घटना पर पुलिस ने बताया कि, जिस घर में लाश मिली, वह दिनेश का है। दिनेश चाय की दुकान चलाता है। दिनेश अपनी एक टैक्सी भी चलवाता है। जो उसने राजेश नाम के शख्स के दे रखी थी। बबिता इसी राजेश की पत्नी थी। दिनेश की टैक्सी राजेश करीब 2 महीने से चला रहा था। दिनेश ने घर की भी चाभी राजेश को दी रखी थी।

पुलिस के अनुसार, बीते शनिवार को दिनेश गांव गया था। गांव से सोमवार को वापस आया। घर आकर देखा तो दरवाजे पर ताला पड़ा था। इसके बाद उसने राजेश को फोन किया, लेकिन बात नहीं हो पाई। जिसके बाद दिनेश ने ताले की दूसरी चाभी से घर का दरवाजा खोला। फिर अपने रोजाना के काम में लग गया। दिनेश पांच दिन तक उसी बेड पर सोता रहा, जिसमें लाश रखी हुई थी। लेकिन उसे इस बात की भनक तक नहीं लगी। अचानक शुक्रवार को उसे बदबू लगी तो पूरा घर देख डाला लेकिन कुछ नहीं मिला। आखिर में जब बेड खोला तो उसके होश उड़ गए। दिनेश को बेड में महिला की लाश मिली।

जिसकी सूचना दिनेश को खुद थाने जाकर दी। जिसकी सूचना फिर पुलिस ने मृतक बबिता के परिवार को दी। बबिता के घरवालों के अनुसार, राजेश से 6 महीने पहले ही उसकी शादी हुई थी। पिछले 10 साल से व अपने बच्चों के साथ सामने के मकान में रह रही थी। सोमवार सुबह लगभग 6 बजे दोनों साथ घर से निकले थे। बबिता की 12 साल की बेटी ने बताया कि दोनों के बीच रोजना लड़ाई होती थी। रविवार रात भी दोनों खूब लड़े थे।

तब बबिता को राजेश ने जान से मारने की धमकी भी दी थी। लेकिन अगली सुबह सोमवार को दोनों साथ निकले। तब से दोनों का पता नहीं चला। बताया जा रहा है कि घरवालों के मुताबिक बबिता की पहली शादी से 5 बच्चे हैं। वहीं, पुलिस प्रथम दृष्टया राजेश पर ही हत्या का शक जता रही है। सोमवार के बाद से ही वो पुलिस फिलहाल राजेश की तलाश में जुटी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App