ताज़ा खबर
 

प्रेमिका की हत्या कर फिल्म देखने चला गया, पुलिस के सामने हत्यारे ने कुछ यूं कबूला जुर्म

नोएडा से वापस आने के बाद उसने बाजार से एक ब्रांडेड कंपनी का बैग खरीदा। महिला के शव को बैग में रखकर उसने इस बैग को मुरादनगर और मसूरी गनंगनहर के बीच कीचड़ में डाल दिया।

Author Published on: March 16, 2019 3:55 PM
पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपी को दबोचा।

इस हत्याकांड को अंजाम देने के बाद यह शख्स फिल्म देखने चला गया। उसे तो यह भी यकीन नहीं था कि उसने जिसका क़त्ल किया है वो मरा भी है या नहीं? क्या है यह कत्ल की कहानी? एक खून का फिल्म से क्या वास्ता? दरअसल इस स्टोरी में लव, धोखा और मर्डर का ट्रा-एंगल है। यह कहानी है गाजियाबाद के रहने वाले 25 साल के एक शख्स की। दीपक नाम का यह युवक यहां राजनगर एक्सटेंशन स्थित एक सोसायटी में किराए के एक फ्लैट में रहता था। साल 2018 में दीपक की मुलाकात एक स्कूल की महिला शिक्षिका से हुई थी। यह शिक्षिका पहले से तलाकशुदा थी। 25 साल के दीपक और 40 साल की इस शिक्षिका की मुलाकात धीरे-धीरे बढ़ने लगी और दोनों के बीच जल्दी ही जिस्मानी रिश्ता भी बन गया। यह महिला टीचर अक्सर दीपक के फ्लैट पर भी आती थी। कई महीनों तक दोनों के बीच सबकुछ ठीक रहा। इस बीच यह शिक्षिका, दीपक से शादी करने का ख्वाब देखने लगी। लेकिन दीपक किसी भी कीमत पर महिला टीचर से शादी नहीं करना चाहता था।

08 मार्च 2019 को अचानक यह महिला शिक्षिका रहस्यमयी परिस्थितियों में लापता हो गई। महिला टीचर के लापता होने की खबर उसके जानने वालों ने पुलिस को भी दी। सूचना मिलते ही पुलिस हरकत में आई। पुलिस ने दीपक के बारे में सूचनाएं जुटाईं और 10 मार्च को उसे थाने पर पूछताछ के लिए बुलाया। लेकिन दीपक ने पुलिसवालों के सामने महिला टीचर के अचानक गायब होने के मामले में अनभिज्ञता जताई। हालांकि उस वक्त पुलिस दीपक की बातों से संतुष्ट नहीं हुई और उसके घर के पास लगे सीसीटीव फुटेज की पुलिस ने गहनता से जांच की। इस बार पुलिस को कुछ ठोस सुराग हाथ लगे। पुलिस ने तुरंत दीपक से कड़ाई से पूछताछ शुरू की और दीपक जल्दी ही पुलिस के सामने टूट गया। दीपक ने पुलिस के सामने कई चौंकाने वाले खुलासे किए।

दीपक ने पुलिस को बताया कि महिला टीचर उसपर शादी करने का दबाव बना रही थी। महिला ने उसे धमकी दी थी कि अगर उसने उससे शादी नहीं की तो वो उसपर रेप का केस दर्ज करवाएगी। महिला की बातों से दीपक तनाव में था। 08 मार्च को उसने अपने घर पर महिला की गला दबाकर हत्या कर दी। हत्या के बाद वो अपने एक दोस्त के साथ नोएडा आ गया और यहां उसने एक फिल्म भी देगी। दीपक ने पुलिस को यह भी बताया कि महिला की गला दबाने के बाद उसे यह भी यकीन नहीं था कि महिला की मौत हुई है या नहीं? नोएडा से वापस आने के बाद उसने बाजार से एक ब्रांडेड कंपनी का बैग खरीदा। महिला के शव को बैग में रखकर उसने इस बैग को मुरादनगर और मसूरी गनंगनहर के बीच कीचड़ में डाल दिया। बहरहाल हत्याकांड का पर्दाफाश होने के बाद आरोपी पर कानून के मुताबिक कार्रवाई की गई है। (और…CRIME NEWS)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 साथी से गर्भवती हो गई पत्‍नी तो मार डाला, वायुसेना के सार्जेंट को फांसी की सजा, महिला को 5 साल जेल
2 प्रेमी को चाकू मार चिल्लाने लगी लड़की- प्लीज मरना मत, तुमसे बहुत प्यार करती हूं
3 चिमनी में मिली थीं इस महिला की बारीक हड्डियां! हत्यारे तक यूं पहुंची पुलिस