ताज़ा खबर
 

Maharashtra: दलित बच्चे पर था मंदिर से पैसे चुराने का शक, सजा में गर्म फर्श पर बैठा दिया

पुलिस के मुताबिक, पीड़ित बच्चा मतंग (अनुसूचित जाति) समुदाय से ताल्लुक रखता है। इसके चलते आरोपी के खिलाफ एससी/एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है।

प्रतीकात्मक तस्वीर फोटो सोर्स-इंडियन एक्सप्रेस

महाराष्ट्र के नागपुर के वर्धा में पुलिस ने एक ऐसे शख्स को गिरफ्तार किया है, जिसने 8 साल के मासूम बच्चे को गर्म फर्श पर बैठा दिया था। बताया जा रहा है कि आरोपी को बच्चे पर मंदिर से पैसे चुराने का शक था। इसके चलते उसने बच्चे को यह सजा दी। बता दें कि बच्चा दलित समुदाय से ताल्लुक रखता है। ऐसे में पुलिस ने एससी/एसटी एक्ट के साथ-साथ अत्याचार अधिनियम में केस दर्ज किया है।

यह है मामला: पुलिस के मुताबिक, यह घटना 16 जून की है। आरोपी की पहचान अमोल धोरे के रूप में हुई। बताया जा रहा है कि उसे 8 साल के दलित बच्चे पर मंदिर से पैसे चुराने का शक था। ऐसे में उसने बच्चे को सजा देने के बारे में सोचा और उसे मंदिर के गर्म फर्श पर बैठा दिया।

National Hindi News, 20 June 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

कई जगह से झुलसा बच्चा: आरवी के सब-डिविजनल पुलिस ऑफिसर प्रदीप वैराले ने बताया कि बच्चे को सजा देने के लिए अमोल ने उसे मंदिर के गर्म फर्श पर बैठा दिया। इससे बच्चा कई जगह से जल गया। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसका इलाज चल रहा है। वहीं, आरोपी के खिलाफ वर्धा के आरवी थाने में केस दर्ज कराया गया है।

Bihar News Today, 20 June 2019: बिहार से जुड़ी हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

जेल भेजा गया आरोपी: पुलिस के मुताबिक, पीड़ित बच्चा मतंग (अनुसूचित जाति) समुदाय से ताल्लुक रखता है। इसके चलते आरोपी के खिलाफ एससी/एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। फिलहाल आरोपी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

मंदिर में नहीं आने देने का भी लगाया आरोप: थाने में दर्ज शिकायत में बताया गया है कि अमोल पीड़ित बच्चे को मंदिर में आने से मना करता था, क्योंकि वह दलित समुदाय से ताल्लुक रखता है। हालांकि, पुलिस का कहना है कि इस आरोप के संबंध में कोई सबूत नहीं मिला है। बताया जा रहा है कि बच्चा अक्सर मंदिर परिसर में ही खेलता था।

राज्य सरकार ने दिए जांच के आदेश: इस मामले में महाराष्ट्र की महिला एवं बाल विकास मंत्री पंकजा मुंडे भी नजर रख रही हैं। उन्होंने बताया कि सरकार ने घटना की जांच कराने का आदेश दिया है। इस मामले में अनुसूचित जाति कमीशन से भी रिपोर्ट मांगी गई है।

Next Stories
1 कोर्ट में नेवी अफसर का कबूलनामा- हां कैदी बच्चे को मारी थी गोली, कहा था ISIS का कचड़ा
2 Kerala: पेट्रोल डाल महिला कॉन्स्टेबल को जिंदा जलाने वाले पुलिसकर्मी की भी मौत, घटना के वक्त झुलस गया था
3 Kolkata: भारत-पाक मैच के दौरान छात्रा ने FB पर किया था पोस्ट, पहले हुई ट्रोल, अब मिली रेप की धमकी
ये पढ़ा क्या?
X