ताज़ा खबर
 

Ayushman Bharat Yojana के नाम पर नकली Sim Card से करते थे धोखाधड़ी, Mobile Company के पूर्व अधिकारी समेत 5 गिरफ्तार

पुलिस अधीक्षक शुक्ला ने बताया कि इन आरोपियों ने कूरियर के जरिए देश के अन्य राज्यों में भी इन सिम कार्डों को भेजा है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Author जबलपुर | Published on: December 10, 2019 6:52 PM
प्रतीकात्मक फोटो (सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

मध्यप्रदेश की साइबर पुलिस ने दूसरों के नाम पर थोक में मोबाइल सिम लेने वालों को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि इन सिम कार्डों के जरिए धोखाधड़ी कर लोगों के बैंक खातों व ई-वॉलेट से कथित तौर पर पैसा निकाल लेते थे। इस आरोप में पुलिस ने एक मोबाइल कंपनी के दो अधिकारियों सहित पांच लोगों को सोमवार को गिरफ्तार किया है। मामले की आगे जांच चल रही है। मामले में पुलिस ने बताया कि दो फरियादियों की शिकायत पर पुलिस ने यह कार्रवाई की है।

आरोपियों की हुई गिरफ्तारीः मध्य प्रदेश साइबर अपराध जबलपुर जोन के पुलिस अधीक्षक अंकित शुक्ला ने बताया कि इस मामले में हमने आइडिया वोडाफोन के दो अधिकारियों को गिरफ्तार किया है। इसमे एरिया सेल्स मैनेजर रितेश कनोजिया एवं पूर्व एरिया सेल्स मैनेजर रोहित बजाज मुख्य आरोपी हैं। इनके अलावा निशांत पटेल, असफाक अहमद और अमित सोनी को भी गिरफ्तार किया है। पुलिस इनसे कड़ी पूछताछ कर रही है।

Hindi News Today, 10 December 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

ऐसे करते थे फर्जीवाड़ाः मामले में पुलिस अधीक्षक ने कहा कि आइडिया वोडाफोन के दो अधिकारियों से निशांत पटेल, असफाक अहमद और अमित सोनी ने सांठगांठ कर थोक में सिम कार्ड लेकर धोखाधड़ी की। आरोप है कि केंद्र की संचालित हेल्थकेयर आयुष्मान योजना पर पंजीकरण के बहाने मध्य प्रदेश के विभिन्न जिलों के कई लोगों को चूना लगाया है। बता दें कि आरोपी लोगों से उनका बायोमेट्रिक ब्योरा एकत्र कर इन सिम कार्डों को उनके नाम पर चालू करवाते थे और इस फर्जीवाड़े को अंजाम देते थे।

देश के अन्य राज्यों में भी भेजे गए हैं सिमः शुक्ला ने बताया कि इसके बाद आरोपियों ने इन सिम कार्डों से आनलाइन खरीददारी की और ओटीपी आने पर उनके बैंक खातों एवं पेटीएम से धोखे से इस खरीददारी का भुगतान कर दिया। उन्होंने यह भी कहा कि पुलिस ने इन आरोपियों के पास से 35 सिम कार्ड एवं कुछ मोबाइल फोन भी जब्त किए हैं। शुक्ला ने बताया कि इन आरोपियों ने कूरियर के जरिए देश के अन्य राज्यों में भी इन सिम कार्डों को भेजा है। पुलिस इसकी जांच कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 दूल्हे की गाड़ी जैसे सजाई जीप, बाराती बने पुलिस अफसर और मार दिया अवैध खनन करने वालों पर छापा, जानें फिर क्या हुआ…
2 बिहार में एक शख्स ने नाबालिग लड़की को लगाई आग, पुलिस ने कहा- प्यार का मामला, एक महीने की गर्भवती थी लड़की
3 4 साल की उम्र में रिश्तेदार ने पहली बार किया रेप, 10वीं क्लास तक तीन बार कराना पड़ा अबॉर्शन, महिला ने अदालत में बयां किया अपना दर्द
ये पढ़ा क्‍या!
X