ताज़ा खबर
 

लॉकडाउन में बाहर घूमता था युवक, पत्नी को बताने पर दोस्त की कर दी हत्या, बाद में हो गया फरार

हरियाणा के पानीपत में युवक ने अपने दोस्त की ही हत्या कर दी। दरअसल युवक लॉकडाउन में बाहर घूमता था जिसकी शिकायत दोस्त ने पत्नी से कर दी। इस बात से नाराज युवक ने अपने दोस्त पर चाकूओं से हमला कर दिया।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

कोरोना वायरस के चलते हरियाणा सरकार ने राज्य में लॉकडाउन लागू कर दिया था। यहां लोगों के बाहर घूमने पर रोक लगा दी गई थी। इस बीच एक नई घटना सामने आई है, जिसमें युवक लॉकडाउन में बाहर घूमता था और उसके दोस्त ने इसकी सूचना युवक की पत्नी को दे दी थी। इस बात से वह काफी नाराज हो गया था। उसने गुस्से में आकर दोस्त के सीने पर चाकूओं से वार कर दिया था।

दरअसल युवक की आदत थी कि वह अक्सर घर से बाहर बिना काम के घूमता था, लेकिन लॉकडाउन के कारण सब लोग घर में बैठते थे। उसके दोस्त ने इस युवक को घर में बैठने के लिए कहा था, लेकिन वह मानने को तैयार नहीं था। दोस्त की बात जब युवक ने नहीं सुनी तो नाराज दोस्त ने युवक की पत्नी को सबकुछ सच जाकर बता दिया था।

इसके बाद गुस्साए आरोपी युवक ने दोस्त के सीने पर चाकूओं से कई वार किए थे। इस हादसे में वह गंभीर रूप से घायल हो गया था। दोस्त के सीने पर वार करके वह मौके से फरार हो गया, जिसके बाद दोस्तों ने घायल को अस्पताल पहुंचाया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। अमर उजाला के मुताबिक, पुलिस को दी शिकायत में तहसील कैंप स्थित न्यू रमेश नगर के निवासी सुमित कक्कड़ ने बताया कि रविवार रात वह अपने दोस्त उमेश (28) उर्फ सोनू पुत्र विनोद, आशु, कन्हैया उर्फ कन्नू और ठाकुर सहगल के साथ आशु के घर बैठे हुए थे।

इसी बीच विकास नगर निवासी दीपक अपने दोस्त सतनाम सिंह, विजय और एक अन्य के साथ वहां पहुंचा। दीपक ने उमेश उर्फ सोनू से कहा कि तूने क्यों मेरी पत्नी को मेरे रात के समय बाहर घूमने की बात बताई, घर में क्लेश कराता है। इसके बाद दीपक ने उमेश के सीने पर एक के बाद एक कई चाकूओं से वार किए जिसमें वह घायल हो गया। घायल अवस्था में उमेश को अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने जांच के बाद युवक को मृत घोषित कर दिया।

पुलिस ने इस मामले में शिकायत दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। दीपक समेत उसके अन्य साथियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस आरोपियों को पकड़ने के लिए लगातार दबिश दे रही है, लेकिन अभी तक उनका कोई सुराग हाथ नहीं लगा है। शहर थाना प्रभारी सुनील कुमार ने कहा कि बहुत जल्द आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Next Stories
1 महिला को 46 साल बाद मिला खोया हुआ बटुआ, 1975 के बाद अब सोशल मीडिया ने मिलाया
2 आरिफ शेख से संजीव यादव तक, इन दबंग IPS अधिकारियों के नाम से ही कांपते हैं अपराधी
3 फेसबुक पर हुआ प्यार तो बंदूक की नोक पर बेटी को उठाकर लेकर गया प्रेमी, छुड़ाने गई पुलिस पर भी कर दी फायरिंग
ये पढ़ा क्या?
X