ताज़ा खबर
 

दोस्तों संग लड़कियों का रेप कर जला देता था लाश, फिर बंगाल की खाड़ी में बहा देता था राख

इस फिल्म की कहानी को सीरियल किलर ऑटो शंकर पर बेस्ड बताया जाता है।
सीरियल किलर ऑटो शंकर।(फोटो सोर्स- यूट्यूब)

इतिहास में ऐसी कई सीरियल किलिंग की घटनाएं हुई हैं जिनके बारे में जानकर आज भी लोग सिहर जाते हैं। आज हम आपको ऐसे ही सीरियल किलर के बारे में बता रहे हैं जिसने हैवानियत की सारी हदें पार कर दी थी। हम बात कर रहे हैं सीरियल किलर गौरीशंकर की। गौरीशंकर एक ऐसा सीरियल किलर था जिसने करीब 9 से ज्यादा लड़कियों को अपना शिकार बनाया था। कहा जाता है कि यह ऐसा हत्यारा था लड़कियों को अपहरण कर पहले खुद उनके साथ शारीरिक संबंध बनाता था, फिर अपने साथियों को दुष्कर्म करने के लिए बेच देता था। जब साथियों का मन भर जाता था तो लड़कियों को मारकर जला देता था और राख बंगाल की खाड़ी में फेंक देता था।

90 के दशक में चेन्नई में लगातार गायब हो रही लड़कियों से लोग दहशत में रहने लगे थे। साल 1987 से 88 तक 9 लड़कियां गायब हो चुकी थीं और पुलिस पूरी कोशिशों के बाद लड़कियों का पता लगाने में नाकाम साबित हो रही थी। ‘मिड डे’ की रिपोर्ट के मुताबिक उसी साल दिसंबर में एक स्कूली छात्रा ने एक ऑटो रिक्शा चालक के खिलाफ छेड़छाड़ और अपहरण की कोशिश का केस दर्ज कराया, जिसका नाम शुभलक्ष्मी था।

इस केस के बाद पुलिस ने उस ऑटो रिक्शा चालक की पड़ताल शुरू कि और जो सामने आया उससे हर कोई हैरान था। यह ऑटो रिक्शा चालक गौरीशंकर था। पुलिस ने जांच के दौरान पता लगाया कि 9 से ज्यादा लड़कियों के अपहरण और मौत के पीछे इसी ऑटो रिक्शा चालक गौरीशंकर का हाथ पाया लेकिन सबूत सिर्फ 6 लड़कियों के मिले। वही इस सीरियल किलर के 6 लड़कियों के अपहरण और हत्या की बात कबूली थी।

सीरियल किलर गौरीशंकर को ऑटो शंकर के नाम से भी जाना जाता है। 27 अप्रैल साल 1995 में ऑटो शंकर को उसके गुनाहों की सजा मिली थी। सालेम जेल में गौरी शंकर उर्फ़ ऑटो शंकर को फांसी पर लटका दिया गया था।

बता दें कि कॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री के फेमस डायरेक्टर आर. के. सिलवामनी ने साल 1999 में ‘Pulan Visaranai’ फिल्म बनाई थी जिसके लीड हीरो विजयकांत थे। इस फिल्म की कहानी को सीरियल किलर ऑटो शंकर पर बेस्ड बताया जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.