ताज़ा खबर
 

कानपुर में 5 लड़कियों के साथ हुआ ‘लव जिहाद’! परिजनों ने लगाया आरोप, पर्दाफाश करेगी SIT

वहीं युवती की मां ने कहा है कि, 'बेटी ने मुझे फोन करके बताया था कि मुझसे सारा पैसा छीन लिया गया है...अब मैं इनके पास फंस गई हूं. यहां से निकाल लो।'

इस मामले में अब एसआईटी को जौंच सौंपी गई है। फोटो सोर्स – वीडियो स्क्रीनशॉट

कानपुर में 5 लड़कियों के परिजनों द्वारा ‘लव जिहाद’ का आरोप लगाने के मामले में अब एसआईटी जांच करेगी। इससे पहले सोमवार को इन सभी पांचों लड़कियों के परिजनों ने कानपुर के आईजी दफ्तर में जाकर उनसे मुलाकात कर अपनी शिकायत दर्ज कराई थी। इन सभी का कहना था कि कानपुर में कुछ लोग ‘लव जिहाद’ का रैकेट चला रहे हैं। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए अब आईजी ने एसआईटी का गठन कर दिया है। अब एसआईटी अपनी जांच में इस मामले से पर्दा उठाएगी। पूरे प्रकरण की जांच के लिए राजपत्रित अधिकारी के नेतृत्व में एसआइटी गठित होगी. जांच के लिए आरोपितों के कॉल रिकॉर्ड्स चेक किए जाएंगे और भागी हुई लड़कियों की वास्तविक स्थिति का भी पता लगाया जाएगा.

इससे पहले जिन लड़कियों के परिजनों ने आईजी से मुलाकात की है उनका कहना है कि अभी कुछ ही महीनों पहले शहर की पांच लड़कियों ने अंतर्धार्मिक विवाह किए हैं। इनमें दो जेल जा चुके हैं। इन सभी लड़कों का एक ही कॉलोनी से संबंध है। अभी हाल ही में इनमें से एक लड़की शालिनी यादव का एक वीडियो फेसबुक पर वायरल हुआ था। कहा जा रहा है कि शालिनी ने बीते 29 जून घर से भाग कर जुही लाल कॉलोनी के ही रहने वाले फैसल के साथ धर्म बदलकर निकाह कर लिया था।

शालिनी ने जो फेसबुक वीडियो जारी किया था उसमें उन्होंने अपने परिवार को अपनी शादी की जानकारी दी थी और कहा था कि उन्हें अपने परिवार से खतरा है। लेकिन शालिनी के परिजनों का कहना है कि उनकी बेटी के साथ ‘लव जिहाद’ हुआ है। उनका आरोप है कि फैसल ने उनकी बेटी का ब्रेनवॉश कर धर्म परिवर्तन कराया। परिजनों का यह भी आरोप है कि फैसल ने उनके घर से 10 लाख रुपए भी उनकी बेटी के जरिए मंगवाए थे।

शालिनी के भाई विकास यादव ने आरोप लगाया, ‘मेरी बहन को भगाकर ले जाया गया है….वह घर से दस लाख रुपये भी ले गई है…अब युवक उसे धमकाकर वीडियो जारी करा रहा है। अगर उसकी बहन ने अपनी मर्जी से विवाह किया है तो उसे अदालत में आकर धारा 164 के तहत बयान देना चाहिए था। वहीं युवती की मां ने कहा है कि, ‘बेटी ने मुझे फोन करके बताया था कि मुझसे सारा पैसा छीन लिया गया है…अब मैं इनके पास फंस गई हूं. यहां से निकाल लो।’ फिलहाल अब इस पूरे मामले की जांच एसआईटी के पास है।

Next Stories
1 मरने से पहले सुशांत की दिमागी हालत की होगी जांच! सुनंदा पुष्कर और बुराड़ी कांड में हो चुकी है साइकोलॉजिकल ऑटोप्सी
2 ‘ऑटोप्सी में देर की गई ताकि सुशांत के पेट में जहर घुल जाए’, BJP नेता सुब्रमण्यम स्वामी का बड़ा आरोप
3 ‘लॉकडाउन के दौरान 14 साल की लड़की से कई बार हुआ गैंगरेप’, पीड़िता ने सुनाई आपबीती
ये पढ़ा क्या?
X