ताज़ा खबर
 

कानपुर शूटआउटः कसा विकास दुबे पर शिकंजा! पुश्तैनी घर के बाद लखनऊ में मकान भी होगा जमींदोज, मुख्य गुर्गा एनकाउंटर से पहले धराया

Kanpur Encounter: इधर अब कानपुर के बाद विकास दुबे का अब लखनऊ स्थित घर भी गिरेगा। आपको बता दें कि लखनऊ में कृष्णानगर के इंद्रलोक में विकास दुबे का घर स्थित है। एलडीए की टीम ने उसके घर का मुआयना किया है।

CRIME, CRIME NEWSकानपुर रेंज के आईजी ने साफ किया है कि थाने के सभी कर्मचारियों की भूमिका की जांच हो रही है। फोटो सोर्स – ANI

Kanpur Encounter: कानपुर में हुए एनकाउंटर के बाद से फरार गैंगस्टर विकास दुबे पर पुलिस का शिकंजा कसता जा रहा है। न्यूज एजेंसी ‘PTI’ के मुताबिक एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि गैंगस्टर विकास दुबे का एक खास गुर्गा पकड़ा गया है। बताया जा रहा है कि गुरुवार को पुलिसकर्मियों के साथ हुए एनकाउंटर में यह शख्स भी शामिल था।

कानपुर IG, मोहित अग्रवाल ने मीडिया को जानकारी दी है कि ‘इसकी जांच की जा रही है कि किस तरह से विकास दुबे को पुलिस की मूवमेंट की जानकारी मिली,स्थानीय पुलिस स्टेशन के सभी कर्मचारी जांच के दायरे में हैं। जो भी दोषी पाए जाएंगे उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी, उन्हें हत्या का दोषी माना जाएगा।’

इधर अब कानपुर के बाद विकास दुबे का अब लखनऊ स्थित घर भी गिरेगा। आपको बता दें कि लखनऊ में कृष्णानगर के इंद्रलोक में विकास दुबे का घर स्थित है। एलडीए की टीम ने उसके घर का मुआयना किया है। बताया जा रहा है कि मकान को गिराने की प्रक्रिया पर काम जारी है। मालिकाना हक, नक्शा, दस्तावेज जांच की गई है।

लखनऊ विकास प्राधिकरण की शुरुआती जांच में विकास के मकान को लेकर काफी कुछ गड़बड़ मिला है। कानपुर में पुलिस को तलाशी में विकास के घर से जमीन के तमाम कागजात भी मिले हैं। राज्य सरकार का भू-राजस्व विभाग इनकी भी जांच करने वाला है। पुलिस को उसके घर से बहुत सी डायरी मिली हैं, जिसमें उसके काम धंधे और लेनदेन का हिसाब-किताब है।

कानपुर आईजी मोहित अग्रवाल का कहना कि विकास दुबे के सभी संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है, और जल्द ही सफलता हासिल होगी उन्होंने कहा कि अभी पूरा चौबेपुर थाना शक के घेरे में है। कितने पुलिसकर्मियों ने विकास दुबे से बात की, इस मामले की जांच चल रही है। आईजी ने बताया कि थाने के हर एक कर्मचारी की भूमिका की जांच की जा रही है।

बता दें कि घटना में शामिल विकास के गुर्गे श्यामू बाजपेई, छोटू शुक्ला ,जेसीबी चालक मोनू, जहान यादव, दयाशंकर अग्निहोत्री, शशिकांत, पंडित शिव तिवारी, विष्णु पाल, राम सिंह, राम बाजपेई, अमर दुबे, प्रभात मिश्रा, गोपाल सैनी, वीरू भवन, शिवम दुबे, बालगोविंद और बउवा दुबे के खिलाफ 25,000 रुपये के इनाम की घोषणा की गई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 नशा मुक्ति केंद्र से भागे युवक की आपबीती- नंगा कर पीटते हैं, संचालक खुद शराब पीते हैं; जांच शुरू
2 रेप चार्ज से बचाने के लिए महिला दारोगा ले रही थी 20 लाख की घूस, रंगे हाथों गिरफ्तार
3 शादी से पहले मेकअप ले रही थी, युवक ने ब्यूटी पार्लर में गला रेत महिला को मार डाला
ये पढ़ा क्या?
X